खेत में झुलसने से दंपति की मौत: सफाई के बाद लगाई थी आग, बुझाने में झुलसे, अस्पताल में दोनों ने तोड़ा दम

जगदलपुर के सोनारपाल गांव में खेत को साफ करने के बाद लगाई आग में पति-पत्नी झुलस गए। 24 फरवरी को घटना हुई थी जिसके बाद उपचार के दौरान दोनों ने दम तोड़ दिया। पहले पति की मौत हुई वहीं, पांच दिन बाद पत्नी ने भी दम तोड़ दिया।

जगदलपुर के भानपुरी थाना क्षेत्र के ग्राम सोनारपाल में रहने वाले दंपति ने अपने खेत में उगे कचरों को साफ करने के उपरांत उसमें आग लगा दी। इस घटना में दोनों झुलस गए। उपचार के लिए मेकाज भिजवाया गया। जहां उपचार के दौरान दोनों की मौत हो गई।

मामले की जानकारी देते हुए पुलिस ने बताया की भानपुरी के सोनारपाल में रहने वाले गेतू यादव 60 वर्ष 24 फरवरी को अपनी पत्नी बुची यादव 58 वर्ष के साथ अपने खेत में उगे कचरों को साफ करने के बाद उसमें आग लगा दी। ताकि, दूसरी फसल लगाई जा सके। इस दौरान आग इतनी तेजी से फैली की पड़ोसी के खेत को भी चपेट में लिया। पति-पत्नी ने उसे बुझाने का प्रयास किया। इस दौरान दोनों आग की चपेट में आने के कारण बुरी तरह झुलस गए।

घटना के दौरान पति-पत्नी के अलावा खेत में और कोई भी नही था। आग से झुलसने के बाद भी दोनों पति-पत्नी खुद चलकर अपने घर पहुंचे। जहां घर में मौजूद बच्चों ने झुलसे मां-पिता दोनों को पहले भानपुरी के स्वास्थ्य केंद्र उपचार के लिए भर्ती कराया। बेहतर इलाज के लिए वहां से महारानी अस्पताल लाया गया। दोनों की स्थिति को देखते हुए उन्हें मेकाज भेज दिया गया। जहां 26 फरवरी को गेतू यादव की मौत हो गई, वहीं उपचार के 5 दिन बाद मां बुची ने भी दम तोड़ दिया।

बताया जा रहा है कि मृतक के 5 बच्चें है, और सभी लड़कियां है, जिनमें 3 की शादी हो गई है, जबकि 2 की शादी नहीं हुई है। 5 दिन के अंदर मां-पिता की मौत होने से परिवार में गम का माहौल हो गया। शुक्रवार को महिला के शव का पीएम के बाद शव परिजनों को सौप दिया गया।