भिलाई इस्पात मजदूर संघ की से.9 केंटीन में छापा मार कार्यवाही

भिलाई इस्पात मजदूर संघ की से.9 केंटीन में छापा मार कार्यवाही

सेक्टर 9 हॉस्पिटल में संचालित केंटीन में मिल रही अनियमिता और तय रेट से अधिक सामान बेचने,तय निविदा द्वारा सामानों की उपलब्धता नहीं होने की शिकायत पूर्व कर्मचारियों तथा मरीज के परिजनों द्वारा मिलने पर भिलाई इस्पात मजदूर संघ यूनियन के पदाधिकारियों ने आज छापामार कार्यवाही की तथा वहां काउंटर पर उपलब्ध सामानों को देखा तो पाया कि निविदा का एक भी सामान वहां उपलब्ध नहीं है बल्कि जिन सामानों की सूची नहीं है वह सामान रखा जाता है जो तय रेट से अधिक है इस प्रकार अधिक रेट का सामान बेचकर लोगों की जेब खाली की जा रही है एक प्रतिनिधि द्वारा सामान खरीदने पर उसकी बिल मांगने पर वह भी नहीं दी जा रही है इसमें शासन प्रशासन को टैक्स चोरी की संभावना से इंकार नहीं किया जा सकता अधिक रेट का सामान जैसे बिरयानी चिप्स, छोले भटूरे बिस्किट पैकेट फल्ली दाना कोल्ड ड्रिंक्स चिकन जैसे बहुत से सामान जिनसे केंटीन संचालकों को ज्यादा फायदा होता है बेचा जा रहा है ।


इसी बात को लेकर केंटीन में हंगामेदार माहौल रहा जानकारी मिलने पर मीडिया के लोग भी इकट्ठे हो गए उनके साथ यूनियन के लोगों ने उस हाल का निरीक्षण भी किया जहां से खाने का सामान बनकर आ रहा था पाया गया कि केंटीन की आड़ में केटरिंग संचालित हो रही है जहां से खाना बनाकर बाहर भेजा जा रहा है इस प्रकार प्रबंधन की नाक के नीचे संयंत्र की बिजली पानी बिल्डिंग का केटरिंग के रूप में इस्तेमाल कर लाखों का चूना लगाया जा रहा है इस प्रकार की अनियमितता की शिकायत केंटीन प्रबंधन भिलाई को कई बार की गई पर उन लोगों ने शिकायत की उपेक्षा की है क्या कारण है यह समझ से बाहर है किसी भी प्रकार की कार्रवाई ना किया जाना इसमें संलिप्तता दर्शाता है।


यूनियन मांग करती है कि इस प्रकार के केंटीन संचालकों की मनमानी के खिलाफ प्रबंधन कार्रवाई करें तथा ऐसे संचालकों की केंटीन को तत्काल वापिस लिया जाए और उन्हें ब्लेक लिस्ट किया जाए जिससे भविष्य में इन जैसे लोगों को फिर से टेंडर न मिले।
आज यूनियन के कार्यकारी अध्यक्ष चन्ना केशवलू महामंत्री रवि शंकर सिंह उपाध्यक्ष हरिशंकर चतुर्वेदी संयुक्त महामंत्री वशिष्ठ वर्मा अशोक माहोर महेंद्र सिंह सचिव भूपेंद्र बंजारे जी अमर प्रकाश राव शिव राम पंदमनाभन आनंद एम इमानुएल ओमकार राव ब्रम्हा नायडू मरिया दास थे।