‘सलमान खान को मारना ही मेरी जिन्दगी का मकसद, उसे मारकर ही बनूंगा गुंडा’- जेल से दिए इंटरव्यू में फिर बोला लॉरेंस बिश्नोई

लॉरेंस बिश्नोई का नया इंटरव्यू सामने आया है। इसमें उसने अभिनेता सलमान खान को धमकी देते हुए कहा कि जिस दिन सलमान को मारूंगा उस दिन गुंडा बनूंगा।

पंजाबी गायक सिद्धू मूसेवाला की हत्या में बठिंडा जेल में बंद गैंगस्टर लॉरेंस बिश्नोई का शुक्रवार को एक बार फिर से इंटरव्यू सामने आया है। इस बार उसका लुक बदला हुआ दिख रहा है। इस इंटरव्यू में लॉरेंस बिश्नोई कह रहा है कि जिस दिन वह अभिनेता सलमान खान को मारेगा, उस दिन गुंडा कहलाएगा।

इसके अलावा लॉरेंस ने सलमान खान को मारना अपने जीवन का लक्ष्य बताया है। सलमान खान को लेकर गैंगस्टर ने कहा कि उन्हें माफी मांगनी होगी। विश्नोई ने कहा कि बीकानेर में हमारे मंदिर में जाकर माफी मांग लें। नहीं तो इसका अंजाम भुगतना होगा। इसी के साथ बिश्नोई ने अपराध की दुनिया छोड़ने के बाद गौसेवा करने की इच्छा जताई है।

सलमान खान को बताया अहंकारी
जेल में बंद लॉरेंस बिश्नोई ने इंटरव्यू में कहा है कि ‘गुंडा तो मैं अभी तक बना ही नहीं, जिस दिन सलमान खान को मार दिया उस दिन बनूंगा। सुरक्षा हटने पर सलमान की हत्या करूंगा। सलमान खान अगर माफी मांग ले तो बात खत्म हो जाएगी। उसे बीकानेर के मंदिर जाकर माफी मांगनी होगी। 4-5 साल से सलमान खान को मारना चाहता हूं। अगर वो माफी मांग ले तो बात खत्म हो जाएगी। सलमान अहंकारी है, मूसेवाला भी ऐसा ही था। सलमान खान का अहंकार रावण से भी बड़ा है। मुंबई पुलिस के जरिए सलमान खान तक अपनी बात पहुंचाई थी।’

सलमान के लिए बचपन से भरा है गुस्सा
लॉरेंस ने आगे कहा कि ‘सलमान खान के काले हिरण को मारने के मामले में हमारा समाज एक्टर से नाराज है। हमारे समाज से अब तक माफी नहीं मांगी है। मेरे मन में उनके लिए बचपन से गुस्सा भरा है। कभी न कभी हम उनकी ईगो जरूर तोड़ देंगे। उन्हें हमारे देवता के मंदिर में आकर माफी मांगनी होगी। उन्होंने हमारे समाज के लोगों को पैसे भी ऑफर किए थे। हम सलमान खान को शोहरत के लिए नहीं बल्कि मकसद के लिए मारेंगे।’

बता दें कि काले हिरण शिकार केस में सलमान खान का नाम आने के बाद से ही लॉरेंस सलमान को कई बार खुले तौर पर जान से मारने की धमकी दे चुका है। पुलिस ने साल 2008 में इस धमकी के सिलसिले में गैंगस्टर के एक साथी को गिरफ्तार भी किया था। गौरतलब है कि बिश्नोई समाज काले हिरण को अपने आध्यात्मिक गुरु भगवान जम्भेश्वर का पुनर्जन्म मानता है। इसी वजह से बिश्नोई समुदाय काले हिरण की रक्षा करता है।