भिलाई इस्पात संयंत्र के रिटायर्ड कर्मचारी का घर में घुसकर गला रेता, पत्नी के सिर पर वार कर ली जान

थाना प्रभारी नसीर खान ने बताया कि पोस्टमार्टम रिपोर्ट का इंतजार किया जा रहा है। बुजुर्ग के बेटों को सूचना दे दी है। वारदात के पहले से ही दोनों दंपति घर में ही थे। घर गांव के बाहर है। हत्या का कारण अभी सामने नहीं आ सका है। मामले की जांच की जा रही है। परिजनों से पूछताछ के बाद ही कुछ पता चल सकेगा।

छत्तीसगढ़ के बेमेतरा में एक बुजुर्ग दंपती की घर में घुसकर हत्या कर दी गई। दोनों के शव गुरुवार सुबह मिले हैं। हत्यारों ने वृद्ध पति का जहां धारदार हथियार से गला रेता है, वहीं पत्नी के सिर पर वारकर जान ली है। वृद्ध भिलाई स्टील प्लांट के रिटायर्ड कर्मचारी थे। सूचना मिलने के बाद पुलिस मौके पर है। फॉरेंसिक टीम को भी बुलाया गया है। अभी तक हत्या का कारण पता नहीं चल सका है। बुजुर्ग दंपती अकेले ही रहते थे। पुलिस ने दोनों के शवों को पोस्टमार्टम के लिए भिजवा दिया है। मामला बेरला थाना क्षेत्र का है।

जानकारी के मुताबिक, कंडरका के ग्राम सिलघट बाड़ी (खुड़मुड़ा नाला) निवासी सुखीराम निषाद (72) भिलाई स्टील प्लांट (BSP) से रिटायर्ड हुए थे। उनके दो लकड़े और एक लड़की है। तीनों की शादी हो चुकी है। दोनों बेटे भिलाई में काम करते हैं। सुखीराम पत्नी श्यामबती निषाद (70) के साथ गांव में ही रहते थे और खेती-किसानी का काम देखते थे। उनका मकान गांव से थोड़ा हटकर बना हुआ है। गुरुवार सुबह करीब 7-8 बजे लोगों ने घर में कोई हलचल नहीं दिखी तो अंदर जाकर देखा। वहां दंपती का शव पड़ा था।

ग्रामीणों ने पुलिस को सूचना दी। पुलिस पहुंची तो बुजुर्ग का शव बरामदे में पड़ी चारपाई पर था। जबकि उनकी पत्नी का शव घर के अंदर कमरे में जमीन पर पड़ा था। क्षेत्र के दो लोगों की एक साथ हुए हत्या के बाद हड़कंप मच गया है। पुलिस के अधिकारी भी मौके पर पहुंच गए हैं। पुलिस का कहना है कि बुजुर्ग सुखराम की गला रेतकर हत्या की गई है। जबकि उनकी पत्नी के सिर पर धारदार हथियार से वार किया गया है। बुजुर्ग महिला श्यामबती और हत्यारों के बीच काफी संघर्ष होने के भी निशान मिले हैं।