एस -1 कर्मचारियों को भी अब मिलेगा बड़ा मकान -बीएमएस

एस -1 कर्मचारियों को भी अब मिलेगा बड़ा मकान -बीएमएस

भिलाई इस्पात संयंत्र के कर्मचारी जिनका ग्रेड कम है इस कारण उन्हें बड़ा क्वार्टर नहीं मिल पा रहा है उनके लिए एक अच्छी खबर है कि अब एस -1 के कर्मचारी को भी एन क्यू 4 केटेगरी का क्वार्टर मिल पायेगा।


भिलाई इस्पात मजदूर संघ की अपेक्स कमेटी की एक बैठक कर्मचारियों की मांगों को लेकर सीजीएम टाउनशिप के साथ की जिसमें यूनियन के द्वारा एस-1 के कर्मचारी को भी बड़ा क्वार्टर दिये जाने की मांग की थी इसमें तर्क था कि सेल प्रबंधन ने आईटीआई को एस-3 से एस -1 तथा डिप्लोमा को एस-6 से एस-3 इसलिए उन्हें बड़ा क्वार्टर मिलने में बहुत समय लगता है
इसी प्रकार यदि किसी कर्मचारी की नौकरी 3 वर्ष से कम है तो उसे अन्य क्वार्टर नहीं मिल सकता था इसे भी मानते हुए 3 वर्ष को हटाकर 2 वर्ष कर दिया गया है। जल्द ही इसका सर्कुलर निकाल दिया जाएगा।
एक नया मांग पत्र प्रबंधन को देते हुए निम्न बिंदुओं पर विस्तार से चर्चा की

  1. जर्जर एवं अत्यधिक सीपेज वाले क्वार्टरों को आवंटन प्रक्रिया से बाहर रखा जाए
  2. थर्ड पार्टी एवं कब्जे वाले मकानों को ऑनलाइन सिस्टम में दर्शाया जाए
  3. दो क्वार्टर को मिलाकर एक बड़ा क्वार्टर बनाया जाए
  4. वोल्टेज की समस्या से निजात के लिए सभी क्वार्टरों मे 3 फेस कनेक्शन किया जाए
  5. संयंत्र की जमीन पर संचालित प्राइवेट स्कूलों मैं 70 कर्मचारियों के बच्चों की फीस 50% की जाए।
  6. दुर्गापुर स्टील प्लांट की तरह 650 वर्ग फिट तक का मकान लाइसेंस पर दिया जाए एवं उसकी राशि छोटे मकान के लिए 1.5 लाख, बड़े मकान के लिए 4 लाख की जाए तथा जमा राशि पर ब्याज दर दिया जाए।
  7. संयंत्र आवासों में एक टाइम पानी दिया जाता है इसलिए सभी आवासों में एक बड़ी टंकी लगाई जाए
  8. सिविल कार्य को निर्धारित समय मैं किए जाने की व्यवस्था की जाए
  9. बरसों पहले बनाई गई सीवरेज लाइन तथा पानी की लाइन क्षतिग्रस्त हो रही है उनको बदल कर नई लाइन बिछाई जाए जिससे लोगों को स्वच्छ पानी और सीवरेज जाम की समस्या से मुक्ति मिल सके
  10. सभी आवासों के पीछे साफ सफाई करवाकर पेवर ब्लॉक लगाई जाए
  11. टाउनशिप की सफाई व्यवस्था पूरी तरह चरमरा गई है नियमित साफ सफाई पर ध्यान दिया जाए।
    थर्ड पार्टी एलॉटमेंट को ऑनलाइन सिस्टम में जल्दी शामिल कर लिया जाएगा इस पर सहमति बनी है।
    साफ सफाई के संबंध में प्रबंधन का कहना है कि 1 जून से नया टेंडर हो जाएगा उसके बाद नियमित साफ-सफाई होती रहेगी।
    3 फेस कनेक्शन सभी को दिया जाएगा पर उसके लिए थोड़ा इंतजार करना पड़ेगा नए ट्रांसफार्मर मंगाने की प्रक्रिया चल रही है।
    मीटिंग में प्रबंधन से जीएम सुब्रत प्रहलाज,शिखा दुबे सहित अन्य अधिकारी उपस्थित थे।
    यूनियन से आई पी मिश्रा, चन्ना केशवलू, रवि शंकर सिंह देवेंद्र कौशिक हरिशंकर चतुर्वेदी राजेश चौहान शारदा गुप्ता उमेश मिश्रा रामजी सिंह वशिष्ठ वर्मा प्रवीण मारडिकर प्रदीप पाल धर्मेंद्र धामू अशोक माहौर महेंद्र सिंह एबिशन वर्गीस धनंजय चतुर्वेदी श्रीनिवास मिश्रा