जांजगीर जेल में हंगामा: नशे का सामान मिलने पर कैदियों का उत्पात, तीन घायल; बोले- पैसे के लिए कर रहे प्रताड़ित

कर्मचारी बैरक की तलाशी ले रहे थे। इसमें बंदियों के पास नशे का सामान बरामद हुआ, जिसे जब्त कर लिया गया। इसके बाद कैदियों ने कर्मचारियों पर गाली-गलौज करने का आरोप लगाते हुए हंगामा शुरू कर दिया।

छत्तीसगढ़ के जांजगीर जिला जेल में रविवार को कैदियों ने हंगामा कर दिया। कैदियों ने खाने का बहिष्कार कर दिया और नारेबाजी करने लगे। इसमें तीन कैदी घायल हो गए। उन्हें जिला अस्पताल भेजा गया है। हंगामे की सूचना पर एसडीएम, तहसीलदार और केंद्रीय जेल अधीक्षक भी मौके पर पहुंच गए। उन्होंने आक्रोशित कैदियों को समझाकर शांत कराया। कैदियों का आरोप है कि पैसों के लिए उन्हें प्रताड़ित किया जा रहा है। वहीं जेल प्रशासन का कहना है कि नशे का सामान मिलने पर हंगामा किया गया है।

जानकारी के मुताबिक, खोखरा स्थित जिला जेल जांजगीर में रविवार सुबह लॉकअप खुलने के बाद कर्मचारी बैरक की तलाशी ले रहे थे। इसमें बंदियों के पास नशे का सामान बरामद हुआ, जिसे जब्त कर लिया गया। इसके बाद कैदियों ने कर्मचारियों पर गाली-गलौज करने का आरोप लगाते हुए हंगामा शुरू कर दिया। जेल में बंद 240 कैदी हंगामा करने लगे और खाने का बहिष्कार कर दिया। बंदियों ने जिला जेल के अधीक्षक सहित कर्मचारियों की शिकायत की। कहा कि, खाने की क्वालिटी के साथ स्वास्थ्य सुविधाएं नहीं मिल रही हैं।

केंद्रीय जेल अधीक्षक और रेंज प्रभारी ने बताया कि बंदियों में तीन लोगो ने जेल के अंदर अपने शरीर को काट लिया, जिससे खून बहने लगा। तीनों बंदियों को उपचार के लिए जिला अस्पताल भेजा गया है। बंदियों कि मांग पर जेल में लगे सीसी टीवी कैमरों के फुटेज निकाल कर जांच की जाएगी। अगर कर्मचारी दोषी मिलते हैं तो उनके खिलाफ कार्रवाई भी होगी। इसके आलावा बंदियों के खाना और नियमित स्वास्थ्य परीक्षण के लिए भी डाक्टर की व्यवस्था करने का दावा किया। फिलहाल कैदियों ने हंगामा शांत करा दिया गया है।