Chhattisgarh: आज से राष्ट्रीय रामायण महोत्सव का आगाज,मुख्यमंत्री भूपेश बघेल रायगढ़ जिले को देंगे 465 करोड़ की सौगात

रामलीला मैदान में आज से 3 जून तक राष्ट्रीय रामायण महोत्सव कार्यक्रम जारी रहेगा। वहीं दूसरी तरफ राजगढ़ जिले को सीएम भूपेश बघेल 465 करोड़ रुपये की सौगात देंगे।

रायपुर/रायगढ़। रायगढ़ के रामलीला मैदान में आज से 3 जून तक राष्ट्रीय रामायण महोत्सव का आगाज होगा। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल आज इसकी शुरुआत करेंगे। इससे पहले राष्ट्रीय रामायण महोत्सव में शामिल होने इंडोनेशिया और कंबोडिया से टीम रायगढ़ पहुंची। कलाकारों का पारंपरिक तरीके से स्वागत किया गया।

सीएम रामायण महोत्सव में शामिल होने के पूर्व कलेक्टर कार्यालय परिसर में स्थापित छत्तीसगढ़ महतारी की प्रतिमा का अनावरण करेंगे। मुख्यमंत्री इस मौके पर रायगढ़ जिले को 465 करोड़ रुपये से अधिक के विकास कार्यों की सौगात देंगे। इनमें 258 करोड़ 74 लाख 26 हजार रुपये की लागत वाले 59 विकास और निर्माण कार्यों का भूमिपूजन, शिलान्यास, 207 करोड़ 4 लाख 49 हजार रुपये की लागत से निर्मित 53 कार्यों का लोकार्पण शामिल है।

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल करेंगे लोकार्पण
मुख्यमंत्री दूरस्थ अंचलों के लोगों को स्वास्थ्य सुविधाओं का लाभ पहुंचाने के उद्देश्य से धरमजयगढ़ और पुसौर विकासखण्ड में 58 लाख रुपये से अधिक लागत के 2 हमर लैब का लोकार्पण करेंगे। जिला चिकित्सालय रायगढ़ में सस्ती दवा दुकान धन्वंतरी मेडिकल का भी शुभारंभ करेंगे। प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी कर रहे युवाओं के मार्गदर्शन और उन्हें तैयारी के अनुकूल माहौल उपलब्ध कराने के उद्देश्य से घरघोड़ा स्थित मुख्यमंत्री युवा केन्द्र में सुविधाओं का विस्तार किया गया है। यहां के उन्नयन कार्यों का भी लोकार्पण भी मुख्यमंत्री करेंगे। रायगढ़ में संचालित जिला ग्रन्थालय का उन्नयन करते हुए हाईटेक बनाया गया है और छात्रों के लिए आवश्यक सुविधाएं बढ़ायी गयी है। इसका लोकार्पण भी मुख्यमंत्री के हाथों होगा।

जिले के लोगों को 465 करोड़ की सौगात
इसी तरह अन्य लोकार्पण, भूमिपूजन और शिलान्यास के तहत निर्माण विभागों के 186 करोड़ 39 लाख रुपये की लागत से 62 कार्य शामिल हैं। जिसमें सड़कों, स्कूल भवन, अन्य भवनों के निर्माण और जीर्णाद्धार/उन्नयन कार्य शामिल हैं। नगर पालिक निगम रायगढ़ अंतर्गत 14 करोड़ 39 लाख 71 हजार रुपये की लागत से सड़क सुधार कार्य, वार्डों में सामुदायिक भवन निर्माण कार्य शामिल है। पंचायत और ग्रामीण विकास विभाग अंतर्गत 38 करोड़ 24 लाख 70 हजार रुपये की लागत के कार्य शामिल हैं।

लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी विभाग अंतर्गत 107 करोड़ 68 लाख 20 हजार रुपये की लागत से 27 समूह नलजल, सोलर आधारित नलजल शामिल हैं। परिवहन विभाग अंतर्गत 95 लाख 95 हजार रुपये की लागत से जिला परिवहन कार्यालय का भूमिपूजन कार्य शामिल है। वन और जलवायु परिवर्तन विभाग के अंतर्गत 4 करोड़ 58 लाख 63 हजार रुपये की लागत से 12 कार्य शामिल हैं। आदिवासी विकास विभाग के अंतर्गत 4 करोड़ 68 लाख 70 हजार रुपये की लागत से 3 जगहों पर 50 सीटर प्री-मैट्रिक आदिवासी बालक छात्रावास तथा लोक निर्माण विभाग सेतु संभाग अंतर्गत 108 करोड़ 25 लाख रुपये की लागत से 5 पुलों का निर्माण कार्य भी शामिल है।

यहां पढ़ें मुख्यमंत्री के कार्यक्रम का शेड्यूल
राष्ट्रीय रामायण महोत्सव शुभारंभ के पहले दिन 1 जून को अपरान्ह 3 बजे से मुख्यमंत्री और अन्य अतिथियों का मंच पर आगमन होगा। दीप प्रज्जवल एवं राजगीत और स्थानीय कलाकारों एवं पंडित/पुरोहितों के द्वारा हनुमान चालीसा का पाठ किया जाएगा। इस अवसर पर आमंत्रित विदेशी एवं अंतराज्यीय कलाकारों का मार्च पास्ट होगा।

वहीं शाम 4.30 से 5 बजे तक कम्बोडिया विदेशी दल की प्रस्तुति होगी। शाम 5.15 से 7.30 बजे तक अंतर्राज्जीय रामायण मंडलियों के मध्य अरण्यकाण्ड पर आधारित प्रतियोगिता होगी जिसमें उत्तराखंड, कर्नाटक एवं छत्तीसगढ़ की टीमें भाग लेंगी। रात्रि 7.30 से 9 बजे तक राष्ट्रीय ख्याति प्राप्त कलाकार (इंडियन आइडल) सण्मुख प्रिया भजन संध्या की प्रस्तुति देंगी एवं रात्रि 9 से 10.30 बजे तक राष्ट्रीय ख्याति प्राप्त कलाकार (सारेगामा फेम) शरद शर्मा भजन संध्या की प्रस्तुति देंगे।