छत्तीसगढ़: 1 लाख लेकर बॉयफ्रेंड संग भागी थी युवती,अब दोनों पुलिस की गिरफ्त में

बिलासपुर। जिले के लोखंडी गांव से लापता युवती को हाईकोर्ट से आदेश मिलने के बाद पुलिस त्रिपुरा से सुरक्षित लेकर आई है। उसे भगाकर ले जाने वाले युवक को भी गिरफ्तार किया गया है। उक्त युवती दो मई को बिना किसी को बताए घर से 1 लाख रुपए लेकर निकल गई थी। जब आसपास और परिचितों से उसका पता नहीं चला तो सकरी थाने में परिजनों ने रिपोर्ट दर्ज कराई। पुलिस ने कुछ स्थानीय लोगों से बातचीत करने के बाद तलाशने की कोई कोशिश नहीं की।

इसी दौरान परिवार के लोगों को मालूम हुआ कि एक बाहर से आकर यहां रहने वाला युवक भी लापता है। परिजनों ने पुलिस को फिर युवती की तलाश करने के लिए सूत्र दिए। इसके बावजूद पुलिस ने तत्परता नहीं दिखाई। तब अवकाश कालीन न्यायाधीश के समक्ष उन्होंने अधिवक्ता संदीप श्रीवास्तव के माध्यम से बंदी प्रत्यक्षीकरण याचिका लगाई। जस्टिस सचिन सिंह राजपूत और जस्टिस संजय अग्रवाल की डिवीजन बेंच ने पुलिस को निर्देशित किया कि युवती को ढूंढ कर अदालत में पेश किया जाए।

हाई कोर्ट के आदेश के बाद पुलिस सक्रिय हुई और बांग्लादेश बॉर्डर से त्रिपुरा में युवती को अरमान नाम के युवक के साथ बरामद कर लिया। युवती को सुरक्षित लाकर कोर्ट में पेश किया गया। साथ ही युवक अरमान को भी हिरासत में लिया गया। युवती को कोर्ट में पेश किया गया है जहां उसने बताया है कि सोशल मीडिया के माध्यम से उसका अरमान उर्फ अब्दुल से परिचय हुआ था और उसके साथ चली गई। हाई कोर्ट में इस मामले की अगली सुनवाई 12 जून को रखी गई है।