सरपंच को गधे पर बैठाकर गांव में घुमाया, जानें क्या है पूरा मामला ?

मध्य प्रदेश के कई जिलों में मानसून की बेरूखी ने किसानों की चिंता बढ़ा दी है। बारिश नहीं होने से फसलें सूख रही हैं। जिन खेतों में धान की रोपाई व सोयाबीन की बुवाई की गई है, उनमें पानी के अभाव में दरारें पड़ गई हैं। साथ ही लोग गर्मी से भी परेशान हैं। वहीं बारिश के लिए ग्रामीण टोटके कर रहे हैं।

रतलाम में भी मानसून की बेरुखी जारी है। पलसोडा गांव में ग्रामीणों ने गांव के सरपंच को गधे पर उल्टा बैठाकर पूरे गांव में घुमाया है। यह एक तरह का टोटका है जिसे ग्रामीण कई सालों से आजमा रहे हैं। इतना ही नहीं सरपंच को गधे पर बैठा कर घुमाने के बाद ग्रामीणों ने भगवान शिव के मंदिर में जाकर अच्छी बारिश की कामना भी की है। ग्रामीणों का मानना है कि ऐसा करने से इंद्र देवता खुश होकर बारिश करते हैं। सरपंच को गधे में बैठाकर घूमने का वीडियो भी वायरल हो रहा है।

बता दें कि क्षेत्र में बीते एक महीने से बारिश नहीं हुई है। ऐसे में सोयाबीन की आधी फसल बर्बाद हो चुकी है और शेष बची फसलों को बचाने के लिए अब ग्रामीण कई तरह के टोटकों का सहारा ले रहे हैं। ग्रामीण हरीश व्यास ने बताया कि बारिश नहीं होने से सोयाबीन की फसल की ग्रोथ रुक गई है। साथ ही उन्होंने सरकार से सर्वे और आर्थिक मदद की मांग भी की है।

इतना ही नहीं सरपंच को गधे पर बैठा कर घुमाने के बाद ग्रामीणों ने भगवान शिव के मंदिर में जाकर अच्छी बारिश की कामना भी की है। ग्रामीणों का मानना है कि ऐसा करने से इंद्र देवता खुश होकर बारिश करते हैं। सरपंच को गधे में बैठाकर घूमने का वीडियो भी वायरल हो रहा है। बता दें कि क्षेत्र में बीते एक महीने से बारिश नहीं हुई है। ऐसे में सोयाबीन की आधी फसल बर्बाद हो चुकी है और शेष बची फसलों को बचाने के लिए अब ग्रामीण कई तरह के टोटकों का सहारा ले रहे हैं। ग्रामीण हरीश व्यास ने बताया कि बारिश नहीं होने से सोयाबीन की फसल की ग्रोथ रुक गई है। साथ ही उन्होंने सरकार से सर्वे और आर्थिक मदद की मांग भी की है।