कैबिनेट मंत्री मो अकबर के हाथो राज्य भर के 200 शिक्षको का हुआ सम्मान

कैबिनेट मंत्री मो अकबर के हाथो राज्य भर के 200 शिक्षको का हुआ सम्मान

शिक्षक प्रतिभा अकादमी छत्तीसगढ द्वारा राज्य भर के 200 उत्कृष्ट शिक्षको को किया सम्मान, पी जी कॉलेज कबीरधाम में हुआ कार्यक्रम

अजय – शिक्षक प्रतिभा अकादमी छत्तीसगढ़ द्वारा आयोजित राज्य स्तरीय सम्मान समारोह में प्रदेश के वन, परिवहन, आवास, पर्यावरण एवं जलवायु परिवर्तन मंत्री विधायक मोहम्मद अकबर शामिल हुए। सम्मान समारोह का शुभारंभ सर्वपल्ली राधाकृष्णन के तैल्यचित्र पर दीप प्रज्ज्वलन, माल्यार्पण तथा राजकीय गीत अरपा, पैरी के धार की प्रस्तुति के साथ हुआ। गुरु वंदना करते हुए शिक्षिका द्वारा नृत्य की प्रस्तुति दी गई। मंच संचालन संजय मैथिल ने किया।

शिक्षक प्रतिभा अकादमी के संस्थापक एवं संयोजक भरत कुमार डोरे अतिथियों का स्वागत करते हुए कहा– शिक्षक प्रतिभा सम्मान समारोह में मंचासीन सम्माननीय मुख्य अतिथि मोहम्मद अकबर मंत्री छत्तीसगढ़ शासन,कार्यक्रम के अध्यक्षता कर रही ममता चंद्राकर विधायक पंडरिया, विशिष्ट अतिथि के रूप में उपस्थित समस्त अतिथियों एवं राज्य भर से आए हुए प्रतिभावान शिक्षक, शिक्षिकाओं का कबीरधाम के पावन धरा में हार्दिक स्वागत अभिनंदन किया गया। शिक्षक प्रतिभा अकादमी छत्तीसगढ़ नवोदित संस्था है जिसमें विभिन्न जिलों से सक्रिय एवं बहुमुखी प्रतिभा संपन्न शिक्षक जिसमें संजय मैथिल, इंद्राणी सत्यम, अनकेश्वर महिपाल, शिवकुमार बंजारे, वीरेंद्र साहू, धर्मराज साहू, महेश ठाकुर, बसंत कुमार डोरे शामिल हैं। हमारे इस अकादमी की स्थापना राज्य भर के प्रतिभावान शिक्षकों एवं छात्रों को मंच प्रदान कर उनकी कला,गतिविधियों को प्रोत्साहित कर आगे बढ़ाना है, साथ ही असहाय, निर्धन एवं प्रतिभाशाली विद्यार्थी कोष का गठन कर उन्हें लाभान्वित करना, सहयोग प्रदान करना हमारा उद्देश्य होगा। बहुत ही हर्ष का विषय है कि सर्वपल्ली डॉ. राधाकृष्णन के जन्म दिवस 5 सितंबर को शिक्षक दिवस के रूप में मनाए जाता है, इसी परिपेक्ष्य में राज्य भर के प्रतिभाशाली शिक्षक शिक्षिकाओं को सम्मानित करने का गौरव प्राप्त हुआ है। इस पुनीत पावन कार्य में उपस्थित सभी सम्माननीय अतिथियों, अधिकारी गण, सम्मानित शिक्षकों का हार्दिक स्वागत व अभिनंदन किया।


राज्यभर से आए हुए 200 प्रतिभावान शिक्षकों को प्रतीक चिन्ह, साल और प्रशस्ति पत्र प्रदान कर मंत्री जी के हाथों सम्मानित किया गया। केबिनेट मंत्री अकबर ने सभी शिक्षकों को सम्मानित कर बधाई और शुभाकामनाएं दिया। इस अवसर पर एससीईआरटी के सेवानिवृत्त प्रोफेसर विद्यावती चंद्राकर, नगर पालिका अध्यक्ष ऋषि शर्मा, कृषि उपज मंडी अध्यक्ष नीलकंठ साहू, उपाध्यक्ष चोवाराम साहू, राधेलाल भास्कर, पार्षद मोहित महेश्वरी, राजकुमार तिवारी, विरेन्द्र जांगड़े, जिला शिक्षा अधिकारी एम. के. गुप्ता, गणमान्य नागरिक, जनप्रतिनिधि, शिक्षक-शिक्षिकाएं उपस्थित थे।

मंत्री जी का उद्बोधन केबिनेट मंत्री अकबर ने कार्यक्रम आयोजन के लिए शिक्षक प्रतिभा अकादमी के संस्थापक संयोजक भरत डोरे को बधाई देते हुए कहा कि भारत मे शिक्षकों, गुरुजनों का विशेष सम्मान देने के लिए सर्वपल्ली श्री राधाकृष्णन का जन्मदिन (5 सितंबर) को पूरे भारत में शिक्षक दिवस के रूप में मनाया जाता है। 5 सितम्बर को भारत के पूर्व राष्ट्रपति और महान शिक्षाविद डॉ. सर्वपल्ली राधाकृष्णन का जन्म हुआ था। पहली बार शिक्षक दिवस 1962 में मनाया गया था। सर्वपल्ली राधा कृष्णन के जन्मदिन को शिक्षक दिवस के रूप में मनाया जाता है। इस महान राष्ट्रपति ने कहा कि पूरी दुनिया एक विद्यालय है जहां से कुछ न कुछ सीखने को मिलता है। जीवन में शिक्षक हमें केवल पढ़ाते ही नहीं है बल्कि हमें जीवन के अनुभवों से गुजरने के दौरान,अच्छे-बुरे के बीच फर्क करना भी सिखाते हैं।
मंत्री अकबर ने कहा कि शिक्षा के माध्यम से बच्चे किसी भी कार्य को करने में सक्षम होते हैं। शिक्षक बच्चों के गुरू के रूप में मार्गदर्शन प्रदान करता है। शिक्षक सफल होने के लिए पथ-प्रदर्शक के रुप में कार्य करता है।कैबिनेट मंत्री ने बालिका शिक्षा को बढ़ाने का आग्रह किया, कहा कि बेटियां जब शिक्षित होती है तो दो कुल और परिवार को शिक्षित करती है। शिक्षकों को भविष्य में लगातर अच्छे कार्य करते रहने हेतु प्रेरित किया।
नगर पालिका अध्यक्ष ऋषि शर्मा ने शिक्षक दिवस के अवसर पर सम्मानित होने वाले सभी शिक्षकों को बधाई दी। उन्होंने कहा कि राज्य भर के शिक्षकों ने कबीरधाम की धरा पर पावन उपस्थिति देकर हमारा मान बढ़ाया है। शिक्षक किसी भी समाज और राष्ट्र का दर्पण है। शिक्षा के बिना मानव समाज के विकास की परिकल्पना नहीं किया जा सकता। शिक्षक और शिक्षा समाज का दिशा निर्देशक होता है। उन्होंने कोचिंग सेंटर और विद्यालय में बड़ा फर्क बताते हुए कहा कि विद्यालय में शिक्षा, व्यकितत्व और समाज का सर्वागीण विकास होता है, जबकि किसी कोचिंग संस्थान में यह नहीं हो सकता।

अतिथियों का सम्मान
राज्य स्तरीय शिक्षक प्रतिभा सम्मान समारोह में उपस्थित समस्त अतिथियों को शिक्षक प्रतिभा अकादमी के संयोजक व संस्थापक भरत कुमार डोरे द्वारा प्रतीक चिन्ह और साल स्मृति स्वरूप भेट किया गया।
प्रदेश भर से सम्मानित होने वाले शिक्षक – अनकेश्वर महिपाल, शिवकुमार बंजारे, संजय कुमार मैथिली, तस्कीन खान, इंद्राणी सत्यम, भरत कुमार डोर, धर्मराज साहू , महेश ठाकुर ,वीरेंद्र कुमार साहू ,कीर्तन शुक्ला,हिमकल्याणी सिंह, अंजनी टंडन, महेंद्र कुमार पंत, सुमित पांडे, बसंत कुमार डोरे, अशोक टोंडे , मोनू गुप्ता, रामा दोहरे, शोभाराम बर्मन, पवन कुमार पाठक, महेत्तर लाल देवांगन, जशपुर से सरिता नायक, बिहारी राम नायक, बस्तर से सुचित्रा सामंत, मनीष कुमार अहीर, के सी जी से प्रकाश मांडवी, कोरबा से शांतिलाल कश्यप, श्वेता सोनी कोरिया, सुशीला साहू रायगढ़ कांकेर से गया राम ध्रुव, पुष्पांजलि ठाकुर, खुशबू जैन, ज्योति गजपाल, कोंडागांव से रघुनंदन कुमार ध्रुव, गरियाबंद अवतार सिंह सिन्हा,सागर कुमार शर्मा, उत्तम सिंह प्रधान, दुष्यंत कुमार वर्मा, कमल किशोर ताम्रकार, मीना यादव ,बलोद से हर्ष देवांगन, सूरजपुर से देव कुमार विरको,आशा पांडे, सूरजपुर से पवन कुमार सिंह, बीजापुर से पवन कुमार साहू, कोंडागांव से श्रीमती दीपमाला वैष्णव, श्रीमती श्रद्धा शर्मा सोनिया, ध्रुव मोहनी गोस्वामी ,महेंद्र कुमार पंत, बसंती साहू, अनिल कुमार अवस्थी, मानपुर मोहला अंबागढ़ चौकी से संध्या साहू ,धमतरी से तेजराम साहू, पुष्पांजलि पटेल, महेंद्रगढ़ चिरमिरी से विजय लाल, शक्ती से जयंती खमारी, रंजीत मरावी, कमलादीप, दिलीप कुमार साहू, जितेंद्र प्रसाद चंद्र, जांजगीर चांपा से चुन्नी देवांगन, ऋतंभरा कश्यप, रोशन खान, छम्मन महंत, बलौदा बाजार भाटापारा से नीलकंठ यादव, श्रीमती रामेश्वरी सी के जलहरे ,सुनीता जायसवाल, महादेव प्रसाद जायसवाल, योगेश्वर साहू ,विभा पाटकर, सारंगढ़ भिलाईगढ़ से सत्येंद्र कुमार बसंत, विनोद कुमार डडसेना, गीता देवांगन, हेमंत कुमार श्रीवास, अंतिमा कवार,प्रतिभा सुल्तान, लोकनाथ पांडे, सुखमति चौहान, जितेंद्र गिरी गोस्वामी, हेमंत कुमार साहू, रामप्रसाद चौहान, बिलासपुर से प्रीति चंद्रवंशी, चरण दास महंत, चंद्रिका मिरी ,शरद कुमार सोनी, विद्यानंद कामडे,कलेश्वर साहू, दीपिका श्रीवास्तव, विभा सोनी, दुर्ग से नरोत्तम कुमार साहू, घनश्याम साहू, सुनील कुमार छेदया, अभिषेक वर्मा, मुकेश कुमार, सुश्री के शारदा, मधु देवांगन, ममता संध्या, राजू ,संध्या मिश्रा, मनमीत भाटिया, ममता सोनी, सुनीता जनार्दन, ईश्वरी देवांगन, खेमराज साहू, किरण शर्मा, उषा भट्ट ,यशवंत कुमार पटेल, शिवकुमार निर्मलकर,नंदिनी देशमुख, पहलाद सिंह , मोहित कुमार शर्मा, रायपुर से सचिता साहू, मनोज कश्यप, अर्चना तिवारी, यामिनीश शुक्ला, डॉक्टर शिप्रा बेग ,अब्दुल आसिफ खान, वीरेंद्र कुमार वर्मा, हेमंत कुमार साहू , सुषमा बग्गा, मीणा भारद्वाज, बसंत कुमार दीवान,दीपक कुमार ध्रुवंशी, गीता तिवारी, सुनील फ्रैंकलिन, सावित्री साहू, बेमेतरा से भुवन लाल साहू, कांति नागे, चुरामन प्रसाद वर्मा, मंजू साहू, ज्योति बनाफर, जानी मारकंडे, सुनीता सिंह राजपूत ,श्रीमती समता सोनी, वीणा देवी शारदे, संगीता सिंह राजपूत, मुंगेली से संगीता सिंह, धर्मेंद्र , कबीरधाम से गायत्री चंद्रवंशी, भुनेश्वर सिंह चौहान, भुनेश्वर राम साहू , भुवनेश्वरी साहू, विजय कुमार लांजियाना, मोहन कुमार चतुर्वेदी, कन्हैया लाल भास्कर, सरस्वती भास्कर, दिव्या सिंह ठाकुर, लक्ष्मण बांधेकर, कार्तिक राम खुटे,रामेश्वरी पातरे ,महेश कुमार जायसवाल, शत्रुघ्न प्रसाद डडसेना, मनोहर लाल, श्रीमती मोनू गुप्ता, राजू श्रीवास्तव, रोशन साहू, प्रियंका वाजपेई, नीलम कुमार धनकर, दिनेश कुमार मारकंडे ,सती मरकाम, रामभरोस पटेल,आरती झारिया, कमलेश, कैलाश मांडवी, मनीता ताम्रकार,अनिल कुमार पांडे, रोशन लाल जायसवाल, सौरभ श्रीवास्तव, चेतन राजपूत, आरती ठाकुर,मिथिला जायसवाल, कमलेश कुमार लांझे, वंदना कश्यप,प्रतिभा गुप्ता, हमीदउल्ला खान, राजेश कुमार चंद्रवंशी, दिनेश कुमार जायसवाल, सुनीता शुक्ला, जगदीश प्रसाद, रवि किशोर सिन्हा, रोशन सिंह कौशल महेश जायसवाल, पूनम तिवारी, इंदल दास डहरिया, मिथिलेश कुमार वर्मा, कामिनी जोशी, देवनाथ पटेल, उमा पाठक, ममता सोनी, पार्वती चंद्राकर, संगीता सिंह,ठाकुर राजेश तिवारी, हेमंत कुमार गबेल, देवलाल साहू, आदि शामिल थे।