ED ने कपिल शर्मा, हुमा कुरैशी और हिना खान को भेजा नोटिस,किस मामले में होगी पूछताछ?,जानें क्या है पूरा मामला

प्रवर्तन निदेशालय (ED) ने महादेव सट्टेबाजी मामले में बॉलीवुड अभिनेत्री हुमा कुरैशी, कॉमेडियन कपिल शर्मा और हिना खान को नोटिस भेजा है। इससे पहले ED ने रणबीर कपूर को समन कर 6 अक्टूबर को पूछताछ के लिए बुलाया है। हालांकि, रणबीर कपूर ने ED से दो हफ्ते का समय मांगा है।

दरअसल, 4 अक्टूबर को खबर आई कि सौरभ चंद्राकर से जुड़े महादेव बेटिंग ऐप मामले को लेकर रणबीर को समन जारी हुआ है। उन्हें ED के सामने पेश होना होगा और उनसे पूछताछ की जाएगी। लेकिन अब हाजिरी की डेट से ठीक एक दिन पहले खबर है कि रणबीर ने ED से समय मांगा है कि उन्हें दो हफ्ते की और मोहलत दी जाए उसके बाद वो हाजिर होंगे।

किस मामले में पूछताछ?
ऑनलाइन सट्टेबाजी का ऐप चलाने वाला सौरभ चंद्राकर ने इसी साल फरवरी के महीने में शादी रचाई थी। अपनी शादी में उसने रणबीर समेत कई सितारों को बुलाया था। सितारों ने उसकी शादी में परफॉर्म भी किया था। सौरभ पर स्टार्स को हवाला के जरिए पैसे देने का आरोप है। वहीं जो पेमेंट मिली उसी को लेकर ED पूछताछ करना चाहती है। बताया जाता है कि सौरभ ने दुबई में शादी की थी, जिसमें उसने तकरीबन 200 करोड़ रुपये खर्च किया था।

परिवार-रिश्तेदारों को दुबई ले जाने के लिए रेंट पर लिया था प्राइवेट जेट
मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, सौरभ चंद्राकर ने अपनी शादी में परिवार वालों को नागपुर से यूएई तक ले जाने के लिए निजी जेट किराये पर लिए थे। शादी के लिए वेडिंग प्लानर, डांसर, डेकोरेटर को मुंबई से बुलाया गया था। अब बताया जा रहा है कि इन सबका पेमेंट कैश में किया गया था। इसके डिजिटल सबूत ED ने जुटाए हैं। इनके अनुसार, योगेश पोपट की मेसर्स आर-1 इवेंट्स प्राइवेट लिमिटेड के नाम पर एक इवेंट मैनेजमेंट कंपनी को हवाला के जरिये 112 करोड़ रुपये पहुंचाए गए थे। 42 करोड़ रुपये होटल की बुकिंग के लिए कैश पेमेंट किया गया था।

App से होता था सट्टेबाजी का धंधा
Mahadev Betting App के प्रमोटर इसे गेमिंग ऐप बताते हैं लेकिन जांच एजेंसी को शक था कि इस ऐप के माध्यम से सट्टेबाजी का धंधा किया जा रहा है। बताया जा रहा है कि इसमें कई रसूखदारों ने अपना पैसा लगाया है। इस एप में अंडरवर्ल्ड का पैसा लगे होने का भी शक है।

इन देशों में फैला है नेटवर्क
सौरभ चंद्राकर और उनके साथी रवि उप्पल ऑनलाइन सट्टेबाजी की दुनिया के वो दो बड़े नाम हैं, जिनका नेटवर्क भारत में ही नहीं बल्कि यूएई, श्रीलंका, नेपाल और पाकिस्तान में भी है। ED दोनों की तलाश कर रही है। दोनों के खिलाफ गैर-जमानती वॉरंट और लुक आउट सर्कुलर भी निकाल चुकी है। सौरभ चंद्राकर छत्तीसगढ़ में भिलाई के शारदा पारा बैकुंठधाम और रवि उप्पल नेहरू नगर का रहने वाला है।