छत्तीसगढ़ में अब और बढ़ेगी सर्दी, ठंडी हवाओं से ग्रामीण इलाकों में गिरा तापमान, जानें अपडेट

मौसम वैज्ञानिक संजय बैरागी ने बताया कि ठिठुरन अब और बढ़ने वाली है. रविवार को प्रदेश भर में डूमरबहार सबसे ठंडा रहा है. कृषि विज्ञान केंद्र डूमरबहार में न्यूनतम तापमान 13.5 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया।

छत्तीसगढ़ के मौसम में बदलाव का दौर लगातार जारी है. लिहाजा प्रदेश में अब ठिठुरन और बढ़ने वाली है. मौसम विभाग के मुताबिक पश्चिमी विक्षोभ गुजर गया है, और उत्तर से ठंडी हवाओं का आना शुरू हो गया है. अब इसके प्रभाव से अब न्यूनतम तापमान में गिरावट आएगी और ठंड बढ़ेगी. आने वाले दो दिनों तक न्यूनतम तापमान में दो से तीन डिग्री सेल्सियस की गिरावट की संभावना है।

मौसम वैज्ञानिक संजय बैरागी ने बताया कि ठिठुरन अब और बढ़ने वाली है. रविवार को प्रदेश भर में डूमरबहार सबसे ठंडा रहा है. कृषि विज्ञान केंद्र डूमरबहार में न्यूनतम तापमान 13.5 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया. उत्तर से आने वाली ठंडी हवाओं के प्रभाव से अब ग्रामीण क्षेत्रों के साथ ही आउटर में ठंड ज्यादा बढ़ने लगी है।

अलग-अलग शहरों का तापमान
छत्तीसगढ़ के सरगुजा का तापमान 15.4 डिग्री, नारायणपुर का 15.5 डिग्री,दंतेवाड़ा का 16.5 डिग्री,कांकेर का 16.5 डिग्री, दुर्ग का 16.6 डिग्री, बलरामपुर का 16.7 डिग्री और बस्तर संभाग का तापमान 16.8 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया है.मौसम विशेषज्ञ संजय बैरागी का कहना है, कि अब आने वाले दिनों में न्यूनतम तापमान में गिरावट ही आएगी और ठंड बढ़ने वाली है.कल रविवार 12 नवंबर को पश्चिमी विक्षोभ गुजरा है, लिहाजा उत्तर से ठंडी हवाओं के आने का दौर शुरू हो गया है।