बीजापुर में IED विस्फोट में छत्तीसगढ़ सशस्त्र बल का जवान भिलाई के राम आशीष यादव शहीद,

बीजापुर में नक्सलियों के लगाए IED बम की चपेट में आने से सीएएफ का हेड कांस्टेबल राम आशीष यादव शहीद हो गए. सोमवार सुबह दस बजे शहीद जवान को बीजापुर पुलिस लाइन में अंतिम सलामी दी जाएगी।

नक्सलियों के लगाए प्रेशर IED की चपेट में आने से सीएएफ के हेड कांस्टेबल राम आशीष यादव शहीद हो गए। जवानों की टीम बीजापुर थाना इलाके के मिरतुर के पास सर्चिंग के लिए निकली थी. जवानों की टीम जैसे ही बेचापाल पदमपारा गांव के पास पहुंची. तभी नक्सलियों के लगाए बम की चपेट में राम आशीष यादव आ गए. फोर्स एरिया डोमिनेशन के लिए निकली थी। शहीद सीएएफ जवान को सोमवार को बीजापुर पुलिस लाइन में अंतिम सलामी दी जाएगी।

घटना दोपहर के तीन बजे के आस पास की है. फोर्स मिरतुर थाना के बेचापाल पदमपारा इलाके में मूव कर रही थी. नक्सलियों ने जवानों के मूवमेंट को देखते हुए पहले से पम को प्लांट कर रखा था. जैसे ही जवान राम आशीष यादव पहुंचा उसका पैर प्रेशर बम पर पड़ गया. बम पर पैर रखते है धमाके के साथ बम फट गया. घटना में हमारे भिलाई के बहादुर जवान राम आशीष यादव शहीद हो गए. शहीद जवान का शव मिरतुर लाया गया है. इलाके में नक्सलियों की धरपकड़ के लिए सघन सर्चिंग अभियान चल रहा है।

CAF का हेड कांस्टेबल IED विस्फोट में शहीद:

हेड कांस्टेबल राम आशीष यादव सीएएफ के 19वीं बटालियन में तैनात थे. सीएएफ की टीम इलाके में निगरानी अभियान के लिए निकली थी. फोर्स बेचापाल कैंप से कुतुलपारा गांव की ओर जा रही थी तभी ये घटना घटी. बस्तर में लगातार जवानों के सर्चिंग और नक्सल विरोधी अभियान से नक्सली बौखलाए हुए हैं. इसी बौखलाहट में नक्सली लगातार कायराना हकरतों को अंजाम दे रहे हैं. हेड कांस्टेबल के शहीद होने के बाद इलाके में जवानों ने बड़े पैमाने पर सर्चिंग अभियान नक्सलियों की धरपकड़ के लिए चलाया है।

भिलाई के रहने वाले थे शहीद राम आशीष यादव:

नक्सलियों के लगाए आईईडी की चपेट आने से शहीद हुए सीएएफ जवान राम आशीष यादव भिलाई के सेक्टर 2 एरिया के रहने वाले थे। मकान नंबर 32/E में उनका परिवार रहता है. भिलाई में उनके रिश्तेदारों को जैसे ही उनके शहीद होने की खबर मिली लोग उनके घर पहुंच गए। शहीद का पार्थिव शरीर आज भिलाई लाया जाएगा।