लोकसभा चुनाव 2024: कांग्रेस की केंद्रीय चुनाव समिति की बैठक खत्म, इन राज्यों के प्रत्याशियों के नाम तय,कांग्रेस उम्मीदवारों की सूची जारी होने से पहले सियासी गलियारों में मचा हड़कंप …

लोकसभा चुनाव की तैयारियों में कांग्रेस पार्टी जोर-शोर से जुटी है। जहां एक ओर राहुल गांधी की न्याय यात्रा जारी है वहीं पार्टी का शीर्ष नेतृत्व ने आज लोकसभा चुनाव के लिए उम्मीदवारों के नामों पर मंथन भी किया। सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक कांग्रेस अपने उम्मीदवारों की पहली लिस्ट शुक्रवार को जारी कर सकती है। बता दें कि कांग्रेस की केंद्रीय चुनाव समिति (सीईसी) की बैठक देर रात तक हुई जिसमें लोकसभा चुनाव के लिए विभिन्न राज्यों में उम्मीदवारों के नाम पर मुहर लगाई गई। पार्टी अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खरगे और पूर्व अध्यक्ष सोनिया गांधी और समिति में शामिल कई अन्य नेता बैठक में शामिल हुए। सीईसी की बैठक में विभिन्न स्कीनिंग कमेटी द्वारा भेजे नामों में से उम्मीदवारों के नामों पर मुहर लगाई जाती है।

राजनीतिक सूत्रों ने बताया कि छत्तीसगढ़ के पूर्व मुख्यमंत्री भूपेश बघेल को राजनंदगांव और पूर्व मंत्री ताम्रध्वज साहू को महासमुंद से उम्मीदवार बनाया जा सकता है। सूत्रों का कहना है कि केरल की कई सीटों पर उम्मीदवारों के नाम पर मुहर लगाई है। माना जा रहा है कि राहुल गांधी एक बार फिर से वायनाड से चुनाव लड़ सकते हैं, हालांकि पार्टी के कई वरिष्ठ नेताओं ने इस बारे में पूछे जाने पर कुछ भी बोलने से इनकार किया। उनका कहना था कि इस पर कोई भी जानकारी पार्टी की ओर से अधिकृत रूप से दी जाएगी। बैठक में दिल्ली, छत्तीसगढ़, केरल, तेलंगाना, कर्नाटक और पूर्वोत्तर के राज्यों की लोकसभा सीटों के लिए उम्मीदवारों के नामों पर विचार किया गया।

बैठक के बाद कांग्रेस महासचिव और छत्तीसगढ़ प्रभारी सचिन पायलट ने कहा, ‘‘ अच्छी चर्चा हुई है। जिन राज्यों को लेकर सीईसी की बैठक हुई, वहां की एक-एक सीट पर चर्चा की गई।’’ यह पूछे जाने पर कि क्या राहुल गांधी वायनाड से लड़ेंगे तो पायलट ने कहा, ‘‘जो भी निर्णय होगा उस बारे में आखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी की तरफ से अवगत करा दिया जाएगा।’’ बड़े नेताओं के चुनाव लड़ने की संभावना पर पायलट ने कहा, ‘‘जो भी व्यक्ति चुनाव जीतने की स्थिति में है, उसे पार्टी चुनाव लड़ने के लिए आदेश करेगी और वह चुनाव लड़ेगा। लेकिन इस बारे में अंतिम निर्णय सीईसी लेगी।’’ सीईसी की बैठक में दिल्ली की तीनों सीट पर एक से अधिक उम्मीदवार होने की वजह से कोई फैसला नहीं हुआ। कहा गया की तीनों सीट पर एक सिंगल नाम पहले तय किया जाए। दिल्ली की तीनों सीट पेंडिंग रखी गई है। इस पर अंतिम फैसला कांग्रेस अध्यक्ष लेंगे।

कांग्रेस ने अभी तक आम चुनाव के लिए किसी उम्मीदवार के नाम का ऐलान नहीं किया है, जबकि भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) ने हाल ही में लोकसभा चुनाव के लिए 195 उम्मीदवारों की सूची जारी की है।