काम की खबर: नहीं आया बैंक अकाउंट में महतारी वंदन योजना का पहला किस्‍त? मंत्री ने दी ये जानकारी,सामने आई बड़ी वजह…

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कल बाबा विश्वनाथ की नगरी काशी से छत्तीसगढ़ में महतारी वंदन योजना की शुरूआत करते हुए 70 लाख 12 हजार 417 महिलाओं के खाते में 1000-1000 रुपए की प्रथम किश्त की राशि अंतरित की। महिलाओं के खाते में 655 करोड़ 57 लाख रुपए की राशि अंतरित की गई। प्रधानमंत्री ने कहा कि ये मोदी की गारंटी है हमारी माताओं-बहनों को छत्तीसगढ़ सरकार नियमित रूप से प्रति माह 1000 रुपए की राशि अंतरित करेगी। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री विष्णु देव साय और उनकी टीम ने इस योजना का जितनी तेजी से क्रियान्वयन किया है उसके लिए मैं उन्हें जितनी बधाई दूं, उतनी कम है। लेकिन कई ऐसी महिलाएं हैं, जिनके खाते में न तो पैसा आया और न ही मोबाइल पर मैसेज आया है।

वहीं, दूसरी ओर जिन महिलाओं के खातके में पैसा नहीं आया उनके लिए महिला एवं बाल विकास मंत्री लक्ष्मी राजवाड़े ने बड़ी बात कही है। उन्होंने मीडिया से बात करते हुए कहा कि सभी महिलाओं के खाते में पैसा आ गया है। लेकिन जिन महिलाओं के खाते में पैसा नहीं आया है उन्हें चिंता करने की जरूरत नहीं है। धैर्य बना कर रखें, जल्द ही सभी के खाते में पैसा आ जाएगा। वहीं, उन्होंने ये भी कहा कि थर्ड जेंडर को भी इस योजना का लाभ मिले इसके लिए हमारी सरकार जल्द निर्णय लेगी।

ऐसे चेक करें पैसा आया या नहीं? सबसे पहले mahtarivandan.cgstate.gov.in वेब पोर्टल को ओपन कीजिए। महतारी वंदन योजना की वेबसाइट खुलने के बाद मेनू में आवेदन की स्थिति विकल्प को सेलेक्ट करें। इसके बाद अपना लाभार्थी क्रमांक या मोबाइल नंबर या अपना आधार कार्ड संख्या कोई भी एक डिटेल इंटर कीजिए। इसके बाद स्क्रीन में दिए गए कैप्चा कोड को निर्धारित बॉक्स में भरें। डिटेल इंटर करने के बाद नीचे सबमिट बटन पर क्लिक कीजिए।

जैसे ही डिटेल्स वेरीफाई होगा महतारी वंदन योजना-लाभार्थी आवेदन एवं भुगतान की स्थिति दिखाई देगा। यहां पर आप चेक कर सकते हैं कि महतारी वंदन योजना का पैसा आपके बैंक अकाउंट में आया है या नहीं। महतारी वंदन योजना के तहत ट्रांसफर किए गए पैसे अगर आपके खाते में नहीं आया तो आपको परेशान होने की जरूरत नहीं है। अगर पैसे नहीं आए हं तो सबसे पहले आप ये पता करें कि आपका बैंक अकाउंट आधार से लिंक है या नहीं। अगर बैंक से आधार लिंक है तो ये भी सुनिश्चित करें कि डीबीटी इनेबल है या नहीं। आप अपने बैंक में जाकर सबसे पहले केवाईसी फॉर्म मांगे। फिर फॉर्म को भरकर एवं पैन आधार कार्ड की फोटोकॉपी लगाकर जमा करें। इसके साथ ही बैंक अधिकारी से बोले कि आपको अपने बैंक अकाउंट में आधार नंबर लिंक करवाना है एवं डीबीटी सुविधा इनेबल करवाना है। जैसे ही आपके बैंक अकाउंट में आधार लिंक एवं डीबीटी ऑन हो जाएगा, आपके बैंक अकाउंट में महतारी वंदन योजना का पैसा जमा हो जाएगा।