दुर्ग में लोकसभा चुनाव को लेकर बुलाई बैठक में हंगामा,प्रत्याशी के सामने ही भीड़े कांग्रेसी,जानिए क्या है पूरा मामला…

दुर्ग लोकसभा चुनाव को लेकर राजीव भवन में दुर्ग शहर कांग्रेस कमेटी की बैठक बुलाई गई थी। यह बैठक चुनावी रणनीति के उद्देश्य से बुलाई गई थी, लेकिन दुर्ग कांग्रेस भवन में भारी गरमा गर्म माहौल देखने को मिला।

मामला था विधानसभा चुनाव में कांग्रेस पार्टी के विरुद्ध कार्य करने वालो के ऊपर कारवाई करने को लेकर. बैठक में चुनाव को लेकर मंथन शुरू ही होने वाला था कि तभी कांग्रेस के कार्यकर्ताओं ने भरी सभा में विधानसभा चुनाव के दौरान कांग्रेस पार्टी के विरुद्ध काम करने वालो के ऊपर कठोर कारवाई करने को लेकर जमकर हंगामा किया। कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने पूरी बैठक के बीच में अरुण वोरा के चुनाव के दौरान उनके खिलाफ काम करने वाले को कांग्रेस से निष्कासित करने की बात कही।

कार्यकर्ताओं ने कांग्रेस नेता एवं पार्षद मदन जैन, पार्षद ऋषभ जैन, पार्षद राजकुमार नारायणी, एल्डरमैन गोलू गुप्ता के ऊपर गंभीर आरोप लगाते हुए चारो व्यक्तियो को कांग्रेस पार्टी से बाहर निकालने की मांग की।

राजनीतिक सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार आरोप लगाया गया है कि मदन जैन और ऋषभ जैन द्वारा विधानसभा चुनाव में अरुण वोरा को हराने के लिए वार्ड वासियों को 1000-1000 रुपए दिया गया था। जैसे ही बैठक में यह बात उछली कांग्रेस भवन में बैठे समस्त कांग्रेसियों की आंखे खुली की खुली रह गई। इस दौरान कांग्रेस जिला अध्यक्ष गया पटेल को खरी खोटी सुनना पड़ा। जहा पटेल पर अपने जिला अध्यक्ष पद की भूमिका सही से नही निभाई जाने पर उन्हें विरोध का सामना करना पड़ा। इस दौरान कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने वर्तमान सभापति राजेश यादव के खिलाफ भी खुलकर नारेबाजी की, राजेश यादव पर भी आरोप लगा की उन्होंने भी विधानसभा चुनाव में कांग्रेस प्रत्याशी अरुण वोरा को हराने के लिए काम किया है। मामला को गरमाता देख पूर्व विधायक अरुण वोरा को बीच बचाव में आना पड़ा, वोरा के कहने पर दोनो पक्षों की बहस शांत हुई। लेकिन फिर भी आखिर तक विरोध के सुर खत्म नहीं हुई थी। बहस के दौरान जब पार्षद ऋषभ जैन मंच ने बैठने के लिए जा रहे थे तभी पूर्व पार्षद प्रकाश गीते ने ऋषभ जैन की कुर्सी मंच से खीच ली। ऋषभ जैन को मंच पर बैठने नहीं दिया गया। गीते ने साफ कह दिया कांग्रेस के गद्दार को मंच में बैठने का कोई अधिकार नही है।

सब लोग भूल जाए मतभेद, राजेंद्र को जिताना लक्ष्य – वोरा

इस भरी गहमा गहमी के बीच दुर्ग शहर के पूर्व विधायक एवं वरिष्ठ कांग्रेस नेता अरुण वोरा ने कांग्रेसजनों को संबोधित किया।अरुण वोरा ने संबोधित करते हुए कहा कि हम सबको आपसी मतभेद को बुलाकर कांग्रेस पार्टी को विजय बनाने का संकल्प लेना है। मैंने भी विधानसभा चुनाव लड़ा था, मुझे भी पता है कि किन-किन लोगो ने चुनाव हारने का काम किया है। लेकिन मैंने आज तक किसी की भी शिकायत प्रदेश कांग्रेस कमेटी या कांग्रेस के आलाकामा से नही की,वह सब का अपना-अपना कर्म है।जिसने भी पार्टी की के विरुद्ध कार्य किया है वह अपने मन में जानता है। उसकी सजा भगवान उनको देगा। लेकिन अब हमारा लक्ष्य राजेंद्र साहू को चुनाव जीत कर दिल्ली भेजने का है। वोरा ने आगे कहा कि जितने भी कांग्रेस कार्यकर्ताओं को कुछ कहना या किसी के मन में कोई बात है तो वह इस मंच पर रख सकता है। वोरा ने सभी कार्यकर्ताओं को राजेंद्र साहू को भारी वोटों से जीताकर सांसद बनाने की बात कही. एवं उन्होंने राहुल गांधी जी को इस देश का प्रधानमंत्री बनाएंगे। वोरा के इतना कहते है बैठक में उपस्थित सभी लोगो ने जोर दार तालिया बजाकर उनका समर्थन किया। इस बैठक के दौरान दुर्ग लोकसभा प्रत्याशी राजेंद्र साहू, दुर्ग महापौर धीरज बाकलीवाल पूर्व विधायक प्रतिमा चंद्राकर पूर्व महापौर आर एन वर्मा, कमल रुंगटा , राधेश्याम शर्मा अल्ताफ अहमद सहित वरिष्ठ कांग्रेस जन उपस्थित थे।