छत्तीसगढ़ की 11 सीटों पर तीन चरणों में होंगे मतदान, पढ़ें कब किस सीट पर वोटिंग,पढ़िए पूरी रिपोर्ट

लोकसभा चुनाव 2024 के लिए शंखनाद हो गया है। चुनाव आयोग ने चुनाव की तारीखों का एलान कर दिया है। छत्तीसगढ़ की सभी 11 सीटों पर तीन चरणों में मतदान होगा।

लोकसभा चुनाव 2024 के लिए शंखनाद हो गया है। चुनाव आयोग ने चुनाव की तारीखों का एलान कर दिया है। छत्तीसगढ़ की सभी 11 सीटों पर तीन चरणों में मतदान होगा। प्रदेश में 19 अप्रैल को पहले चरण की वोटिंग होगी जिसमें एक सीट बस्तर के लिए मतदान किया जाएगा। 26 अप्रैल को तीन सीटों राजनांदगांव, महासमुंद और कांकेर में वोटिंग होगी। वहीं तीसरे चरण में सात मई को सात सीटों सरगुजा, रायगढ़, जांजगीर-चांपा, कोरबा, बिलासपुर, दुर्ग और रायपुर में मतदान किया जाएगा।

छत्तीसगढ़ में सत्ता परिवर्तन के बाद अब यहां बीजेपी की सरकार है। छत्तीसगढ़ में 11 लोकसभा सीटें हैं फिलहाल राज्य की नौ लोकसभा सीटों पर बीजेपी का कब्जा है, तो वहीं दो कांग्रेस के खाते में हैं।

भाजपा ने सभी 11 सीटों पर उम्मीदवारों का एलान कर दिया जबकि कांग्रेस ने अभी तक छह प्रत्याशियों का ही एलान किया है। पांच सीटों पर घोषणा बाकी है। भाजपा ने रायपुर लोकसभा सीट से बृजमोहन अग्रवाल, दुर्ग से सीट से विजय बघेल, राजनांदगांव सीट से संतोष पांडेय, सरगुजा सीट से चिंतामणि महाराज, बिलासपुर सीट से तोखन साहू, कोरबा सीट से सरोज पांडेय, महासमुंद सीट से रूप कुमारी, रायगढ़ सीट से राधेश्याम राठिया, बस्तर सीट से महेश कश्यप, कांकेर सीट से भोजराज नाग और जांजगीर से कमलेश जांगड़े को उम्मीदवार बनाया है।

वहीं कांग्रेस ने राजनांदगांव से पूर्व सीएम भूपेश बघेल, कोरबा से ज्योत्सना महंत, रायपुर से विकास उपाध्याय, जांजगीर चांपा से शिवकुमार डहरिया, महासमुंद से ताम्रध्वज साहू, राजेन्द्र साहू को कांग्रेस ने दुर्ग से प्रत्याशी घोषित किया है जबकि पांच सीटों पर अभी उम्मीदवार उतारना बाकी है।

2019 में कब हुआ था चुनाव
2019 के लोकसभा चुनाव 11 अप्रैल से लेकर 19 मई के बीच सात चरणों में हुए थे। छत्तीसगढ़ में तीन चरणों में मतदान हुए थे।चुनाव आयोग ने राज्य में 11 अप्रैल 2019, 18 अप्रैल 2019 और 23 अप्रैल 2019 को तीन चरणों में मतदान की घोषणा की थी। 2019 में 11 अप्रैल को बस्तर, 18 अप्रैल को राजनांदगांव, महासमुंद, कांकेर और 23 अप्रैल को सरगुजा, रायगढ़, जांजगीर-चंपा, कोरबा, बिलासपुर, दुर्ग, रायपुर में वोटिंग हुई थी।

साल 2019 के लोकसभा चुनाव में बीजेपी ने नौ और कांग्रेस ने दो सीटों पर जीत हासिल की थी। वहीं, 2014 के चुनाव में बीजेपी ने 10 और कांग्रेस ने एक सीट जीती थी। इसके अलावा 2009 में बनी यूपीए सरकार के दौरान बीजेपी ने 10 और कांग्रेस को सिर्फ एक सीट ही मिली थी।