हे भगवान कहाँ है तू…तीन साल की बच्ची को दरिंदे ने बनाया हवस का शिकार,मासूम बच्ची की मौत,आरोपी गिरफ्तार

घर के पास खेल रही बच्ची को साथ ले गया था पड़ोसी किशोर, सिरगिट्टी क्षेत्र की घटना, आक्रोशित स्वजन व मोहल्लेवासियों ने थाने का किया घेराव

सिरगिट्टी क्षेत्र के बन्नाक चौक के पास तीन साल की नाबालिग को बाथरूम में बंद कर दुष्कर्म का मामला सामने आया है। स्वजन गंभीर हालत में नाबालिग को अस्पताल लेकर गए। डाक्टरों ने जांच के बाद मासूम को मृत घोषित कर दिया। स्वजन ने घटना की शिकायत सिरगिट्टी थाने में की है। इसके आधार पर पुलिस ने आरोपित नाबालिग को हिरासत में ले लिया है। सोमवार को बच्ची के शवा का पीएम कराया जाएगा। इसकी रिपोर्ट के आधार पर आगे की कार्रवाई की जाएगी।

एएसपी उमेश कश्यप ने बताया कि मूलत: मुंगेली जिला निवासी युवक ड्राइवर हैं। वे बन्नाक चौक के पास अपनी पत्नी और तीन साल की बेटी के साथ रहते हैं। रविवार की शाम मासूम घर के पास ही खेल रही थी। कुछ देर बाद उसकी मां ने अपनी बेटी को नहीं देखने पर आसपास तलाश की। बेटी के नहीं मिलने पर महिला ने आसपास के लोगों से पूछताछ की। इसमें पता चला कि बच्ची पड़ोस में रहने वाले 15 साल के किशोर के साथ खेल रही थी। उन्हें किसी ने पास के बाथरूम की ओर जाते देखा था। इस पर महिला और पड़ोसी बाथरूम की ओर गए। बाथरूम अंदर से बंद था। महिला ने पहले आवाज दी। दरवाजा नहीं खुलने और अंदर से कोई जवाब नहीं मिलने पर पड़ोसियों की मदद से बाथरूम का दरवाजा तोड़ा गया। अंदर किशोर के साथ तीन साल की मासूम थी। बच्ची बेहोश थी। स्वजन उसे लेकर भागते हुए सिम्स पहुंचे। यहां पर डाक्टरों ने जांच के बाद मासूम को मृत घोषित कर शव चीरघर भेज दिया। इधर बच्ची की मौत के बाद स्वजन थाने पहुंचे। उन्होंने घटना की जानकारी पुलिस को देकर जुर्म दर्ज करने की मांग की। इस पर पुलिस ने मामले की जांच शुरू कर दी है। पुलिस ने आरोपित किशोर को हिरासत में लेकर पूछताछ शुरू कर दी है। सोमवार की सुबह बच्ची के शव का पीएम कराया जाएगा। इसकी रिपोर्ट के आधार पर आगे की कार्रवाई की जाएगी।

पुलिस के रवैये से भड़का गुस्सा

बन्नाक चौक के पास रहने वाले लोगों ने घटना की जानकारी पुलिस को दी। इसके बाद पुलिस ने नाबालिग को हिरासत में ले लिया। पुलिस ने पहले इसे बच्चों की मारपीट का मामला बताकर रफादफा करने की कोशिश की। साथ ही आरोपित को छोड़ दिया। इधर स्वजन अस्पताल में थे। आरोपित को छोड़ देने की जानकारी मिलने पर मोहल्ले के लोग और स्वजन आक्रोशित हो गए। बड़ी संख्या में लोगों की भीड़ सिरगिट्टी थाने पहुंच गई। इधर घटना की जानकारी मिलते ही एएसपी सिटी उमेश कुमार और सिविल लाइन सीएसपी, प्रशिक्षु आइपीएस उमेश गुप्ता भी थाने पहुंच गए। उन्होंने आरोपित को गिरफ्तार करने की जानकारी स्वजन को दी। साथ ही घटना स्थल का निरीक्षण कर स्वजन से पूरे मामले की जानकारी ली। इसके बाद उन्होंने लोगों को समझाइश देकर आरोपित के खिलाफ कड़ी कार्रवाई का आश्वासन दिया। तब जाकर थाने से लोगों की भीड़ छंटी।

बेहोश थी बच्ची, स्वजन भागते पहुंचे अस्पताल

आरोपित किशोर तीन साल की बच्ची को लेकर बाथरूम में घुसा था। उसने दरवाजा अंदर से बंद कर लिया था। इधर स्वजन और आसपास के लोगों ने आवाज दी तब भी उसने दरवाजा नहीं खोला। तब स्वजन और आसपास के लोगों ने किसी तरह दरवाजे को तोड़ दिया। बाथरूम के अंदर आरोपित नाबालिग आपत्तिजनक स्थिति में था। वहीं, बालिका बेहोश थी। उसकी हालत देखकर स्वजन उसे लेकर अस्पताल पहुंचे। तब तक उसकी मौत हो गई थी। बेटी की मौत की जानकारी मिलते ही स्वजन सकते में आ गए। मां-बाप किसी तरह का बयान देने की स्थिति में नहीं हैं। वे केवल आरोपित के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की मांग कर रहे हैं।

आज होगा पीएम

सीएसपी उमेश गुप्ता ने बताया कि बालिका के स्वजन की शिकायत पर मामले की जांच शुरू कर दी गई है। आरोपित को हिरासत में ले लिया गया है। सोमवार की सुबह बालिका का पीएम कराया जाएगा। इसकी रिपोर्ट मिलने के बाद अग्रिम कार्रवाई की जाएगी।