अरविंद केजरीवाल की गिरफ्तारी पर भड़के राहुल गांधी,दिया बड़ा बयान

ED की टीम के सीएम आवास पर पहुंचने की खबर आते ही बाहर आम आदमी पार्टी के नेताओं और कार्यकर्ताओं का हुजूम जुटना शुरू हो गया। सीएम आवास के बाहर भारी पुलिस बल की तैनाती कर दी गई है।

अरविंद केजरीवाल की गिरफ्तारी के बाद कांग्रेस सांसद राहुल गांधी भड़के हैं। उन्होंने अपने सोशल मीडिया एकाउंट एक्स पर लिखते हुए कहा, “डरा हुआ तानाशाह, एक मरा हुआ लोकतंत्र बनाना चाहता है। मीडिया समेत सभी संस्थाओं पर कब्ज़ा, पार्टियों को तोड़ना, कंपनियों से हफ्ता वसूली, मुख्य विपक्षी दल का अकाउंट फ्रीज़ करना भी ‘असुरी शक्ति’ के लिए कम था, तो अब चुने हुए मुख्यमंत्रियों की गिरफ्तारी भी आम बात हो गई है। INDIA इसका मुंहतोड़ जवाब देगा।”

बता दें कि दिल्ली शराब घोटाले में ईडी ने दिल्ली के मुख्यमंत्री को करीब 2 घंटे की पूछताछ के बाद गिरफ्तार कर लिया। ED अब उन्हें अपने दफ्तर ले जा रही है। यहां रात में ही उनका मेडिकल होगा और शुक्रवार को राउज एवेन्यू कोर्ट में पेश किया जाएगा। जहां ED केजरीवाल की रिमांड मांग सकती है। गौरतलब है कि केजरीवाल की गिरफ्तारी के बाद तमाम विपक्षी नेताओं ने ED की इस कार्रवाई का विरोध किया था। वहीं दिल्ली प्रदेश कांग्रेस कमिटी के कई नेता भी सीएम आवास के बाहर पहुंच चुके हैं।

आलोचकों से चुनावी रणभूमि में उतरकर लड़िए-प्रियंका
वहीं इससे पहले कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ने भी एक्स पर ED की इस कार्रवाई का विरोध किया। उन्होंने अपनी पोस्ट में लिखा, “राजनीति का स्तर इस तरह से गिराना न प्रधानमंत्री जी को शोभा देता है, न उनकी सरकार को। अपने आलोचकों से चुनावी रणभूमि में उतरकर लड़िये, उनका डटकर मुक़ाबला करिए, उनकी नीतियों और कार्यशैली पर बेशक हमला करिए – यही लोकतंत्र होता है। मगर इस तरह देश की सारी संस्थाओं की ताकत का अपने राजनीतिक मक़सद को पूरा करने के लिए इस्तेमाल करना, दबाव डालकर उन्हें कमज़ोर करना लोकतंत्र के हर उसूल के ख़िलाफ़ है।”

कांग्रेस के बैंक खाते फ्रीज़ कर दिए गए-प्रियंका
प्रियंका गांधी ने कांग्रेस के खाते को फ्रीज करने और विरोधी दलों के नेताओं पर ईडी, सीबीआई के दबाव का भी जिक्र किया। उन्होंने आगे लिखा- ‘देश के विपक्ष की सबसे बड़ी पार्टी कांग्रेस के बैंक खाते फ्रीज़ कर दिये गये हैं, तमाम राजनीतिक दलों और उनके नेताओं पर ED, CBI, IT का दिन रात दबाव है, एक मुख्यमंत्री जेल में डलवा दिये गये हैं, अब दूसरे मुख्यमंत्री को भी जेल ले जाने की तैयारी हो रही है। ऐसा शर्मनाक दृश्य भारत के स्वतंत्र इतिहास में पहली बार देखने को मिल रहा है।’