सचिन पायलेट लेंगे भूपेश बघेल के खिलाफ सख्त एक्शन? पूर्व सीएम पर लगे आरोपों पर प्रदेश प्रभारी ने कह दी बड़ी बात,जानिए क्या है पूरा मामला

छत्तीसगढ़ में जिसे कल तक भरोसे का चेहरा कहा जाता था आज उसी शख्स को पार्टी के नेताओं ने कटघरे में लाकर खड़ा कर दिया है। जी हां हम बात कर रहे हैं छत्तीसगढ़ के पूर्व सीएम भूपेश बघेल की जो इन दिनों सरकार ही नहीं पार्टी के नेताओं का भी आरोप झेल रहे हैं। भूपेश बघेल पर लगे आरोपों के बाद अब उनकी टिकट काटकर राजनांदगांव सीट से किसी अन्य प्रत्याशी को चुनावी मैदान में उतारने की मांग की जा रही है। वहीं, भूपेश बघेल पर लगे आरोपों पर प्रदेश कांग्रेस प्रभारी सचिन पायलट का बड़ा बयान सामने आया है।

छत्तीसगढ़ दौरे पर आए प्रदेश प्रभारी सचिन पायलट ने मीडिया से बात करते हुए कहा कि इतने बड़े क्षेत्र में कोई कुछ भी बोल देता है, लेकिन उसका कोई औचित्य नहीं है। भूपेश बघेल पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष रहे, मुख्यमंत्री भी रहे हैं कांग्रेस पार्टी के सबसे मजबूत उम्मीदवार हैं। भूपेश प्रचंड बहुमत से चुनाव जीतेंगे, चुनाव के समय अक्सर अफवाहें आती हैं। जो प्रचार उन्होंने चालू किया है वह बहुत दमदार तरीके से किया है। भूपेश ऐतिहासिक बहुमत के साथ लोकसभा चुनाव जीतेंगे।

बता दें कि कांग्रेस नेता रामकुमार शुक्ला ने राष्ट्रीय अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खरगे को पत्र लिखकर राजनांदगांव सीट से भूपेश बघेल की टिकट काटने की मांग की हैं। उनका कहना है कि भूपेश बघेल के खिलाफ भ्रष्टाचार के आरोप लगे हैं। उनके खिलाफ एफआईआर दर्ज होने के बाद से पार्टी को बदनामी झेलनी पड़ रही है। अपने पत्र में रामकुमार शुक्ला ने आगे लिखा है कि भूपेश बघेल के कारण सभी सीटें प्रभावित हो रही हैं। भूपेश बघेल पर महादेव ऐप से पैसे लेने के आरोप लगे हैं। उन्होंने तो यहां तक कह डाला कि भूपेश बघेल के कारण कई अधिकारी और कांग्रेस नेता जेल में है। बता दें कि इससे पहले भरे मंच पर भूपेश बघेल की इज्जत उतारने वाले सुरेंद्र दाऊ ने भी राजनांदगांव सीट से उनकी टिकट काटने की मांग की थी।

गौरतलब है कि पूर्व सीएम भूपेश बघेल 18 मार्च को राजनांदगांव ग्रामीण क्षेत्र के कोठरिया बाड़ी में कार्यकर्ता सम्‍मेलन के आयोजन में हिस्सा लेने गए थे। इस दौरान सुरेंद्र दाऊ ने मंच से ही पूर्व सीएम और पूर्ववर्ती कांग्रेस सरकार पर जमकर हमला बोला। उन्होंने पूछा कि, हमारी पंच, सरपंच की दरी उठाने की ही जिम्मेदारी है क्या? अगर भिलाई-दुर्ग में पंचायत के चुनाव होंगे तो हम वहां भी काम करने के लिए तैयार हैं। 5 साल बहुत से हमारे नेताओं ने कहा कि, कार्यकर्ताओं को लेकर चिंतन-मनन किया। क्या इसमें हम कार्यकर्ताओं को बुलाया गया। इन लोगों ने बंद कमरे में बैठकर चिंतन-मनन किया। हम इस बात को डंके की चोट पर कहते हैं कि किसानों को भाजपा की सरकार 3100 रुपए धान के दे पा रही है, वो भूपेश बघेल की देन है