छत्तीसगढ़ में कांग्रेस को एक और बड़ा झटका: कांग्रेस के ये जिला अध्यक्ष आज सैकड़ों समर्थकों संग बीजेपी में होंगे शामिल,जानें और क्या रहेगा खास

छत्तीसगढ़ की 11 लोकसभा सीटों के लिए रण जारी है, लेकिन इस रण के बीच कांग्रेस का कुनबा लगातार ही घटता जा रहा है।

जनवरी से लेकर मार्च महीने तक कांग्रेस के सैकड़ों कार्यकर्ता कांग्रेस को छोड़कर बीजेपी में शामिल हो चुके हैं. आज फिर बीजेपी ने कांग्रेस में सेंध लगा दी। कांग्रेस के ये जिला अध्यक्ष आज सैकड़ों समर्थकों संग बीजेपी में होंगे शामिल,जानें और क्या रहेगा खास

लोकसभा चुनाव की तारीखों के ऐलान के बाद अब सभी उम्मीदवार अपने अपने चुनाव क्षेत्रों में जोरों से प्रचार कर रहे हैं। वहीं दूसरी ओर नेताओं का दल बदलने का सिलसिला जारी है। इसी बीच चुनाव से पहले कांग्रेस को बड़ा झटका लगा है। गौरेला पेंड्रा मरवाही के जनपद उपाध्यक्ष जीवन सिंह राठौर ने पार्टी से इस्तीफा दे दिया है।

गौरेला पेंड्रा मरवाही कांग्रेस जिला अध्यक्ष को अपना इस्तीफा पत्रा सौंप दिया है। जिसके बाद आज अपने सैकड़ों समर्थकों के साथ बीजेपी में शामिल होने जा रहे हैं। आपको बता दें कि जीवन सिंह राठौ जिले में कई वर्षों से कांग्रेस के सक्रिय सदस्य थे।

बस्तर में पाला बदल करने को लेकर आरोप-प्रत्यारोप का दौर जारी

वहीं विगत दिनों दूसरी ओर बुधवार को नामांकन सभा के दौरान मुख्यमंत्री के सामने कांग्रेसी मेयर सफिरा साहू समेत 5 कांग्रेसी पार्षदों ने बीजेपी का दामन थाम लिया है, इसके बाद से आरोप प्रत्यारोप का दौर शुरू हो गया है.

कांग्रेस जिला अध्यक्ष सुशील मौर्य और निगम सभापति कविता साहू ने सफिरा साहू पर कई गंभीर आरोप लगाए हैं और उन्हें प्रदेश की सबसे भ्रष्ट महापौर बताया है.

इसके साथ ही सुशील मौर्य और कविता साहू ने यह भी आरोप लगाया है कि महापौर निधि में किए गए करोड़ों रूपये के भ्रष्टाचार की फाइल खुलने के डर से सफिरा साहू ने बीजेपी का दामन थाम लिया. वहीं बीजेपी में एंट्री करने के बाद अब इस फाइल की जांच के लिए चुनाव से पहले हल्ला बोल रहे बीजेपी के पार्षदो ने भी अपना मुंह बंद कर लिया है।