प्रापर्टी डीलर की आत्महत्या के मामले में आया नया मोड़: प्रापर्टी डीलर को व्यापारियों ने बनाया था बंधक,जानिए क्या है पूरा मामला…

बिलासपुर में दो मंजिला बिल्डिंग से कूदकर प्रापर्टी डीलर के खुदकुशी केस में किडनैपिंग का ऐंगल सामने आया है। आरोप है कि 6 लाख रुपए कर्ज वसूलने के लिए कुछ व्यापारियों ने उसे बंधक बना लिया था। उनके चंगुल से बचने के लिए वह अपार्टमेंट से कूदा था।

हालांकि पुलिस ने आरोपियों के खिलाफ केवल आत्महत्या के लिए उकसाने का केस दर्ज किया है।
जशपुर जिले के बगीचा निवासी प्रॉपर्टी डीलर विपिन अग्रवाल 30 मार्च की सुबह पाम इन्क्लेव अपार्टमेंट के नीचे खून से लथपथ हालत मिला था। आसपास के लोगों की मदद से उसे इलाज के लिए सिम्स में भर्ती कराया गया। गंभीर हालत देखकर प्राइवेट अस्पताल ले जाया गया, इस दौरान इलाज के दौरान उसकी मौत हो गई।

सुसाइड केस की जांच के दौरान पुलिस ने आसपास के CCTV फुटेज खंगाले। इस दौरान एक वीडियो मिला जिसमें विपिन अपार्टमेंट से कूदता नजर आ रहा है। इसी वीडियो के आधार पर पुलिस अपार्टमेंट से कूद कर आत्महत्या करने का दावा करती रही।

इस घटना की जानकारी मिलने पर बिलासपुर पहुंचे परिजन ने विपिन की हत्या करने का आरोप लगाया और निष्पक्ष जांच की मांग की। इसके बाद पुलिस अफसरों ने अपार्टमेंट के मालिक स्वप्निल अग्रवाल, ड्राइवर सहित अन्य लोगों से पूछताछ शुरू की।