कुम्हारी टोल प्लाजा में भीषण सड़क हादसा: कर्मचारियों से भरी बस 50 फीट खाई में गिरी,15 यात्रियों की मौत 20 से ज्यादा यात्री घायल,PM मोदी और CM साय ने जताया शोक, राहत बचाव कार्य जारी

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और राज्य के मुख्यमंत्री विष्णु देव साय ने इस घटना (Durg Accident) पर दुख जताते हुए मृतकों के परिवारों के प्रति संवेदना जाहिर की. वहीं छत्तीसगढ़ के डिप्टी सीएम विजय शर्मा देर रात घायलों से मिलने रायपुर एम्स पहुंचे।

दुर्ग में बड़ा सड़क हादसा हुआ है। दुर्ग जिले के कुम्हारी में एक बस 50 फीट गहरी खाई में गिर गई. इस घटना में अब तक 15 लोगों की मौत की खबर सामने आई है. मृतकों में दो महिलाएं शामिल हैं. वहीं 20 से ज्यादा लोग घायल बताए जा रहे हैं. बता दें कि मंगलवार रात ड्यूटी से लौटते समय कर्मचारियों से भरी बस खाई में गिर गई. बस में केडिया डिस्टलरी फैक्ट्री के करीब 40 कर्मचारी सवार थे. बस खाई में गिरने से अब तक 15 लोगों की जान चली गई।इस घटना की जानकारी लगते ही रेस्क्यू टीम तुरतं मौके पर पहुंची और राहत और बचाव अभियान तुरंत शुरू किया गया।देर रात तक बचाव अभियान चलता रहा।

दुर्ग हादसे पर पीएम मोदी और सीएम साय ने जताया दुख
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और राज्य के मुख्यमंत्री विष्णु देव साय ने इस घटना पर दुख जताते हुए मृतकों के परिवारों के प्रति संवेदना जाहिर की. वहीं छत्तीसगढ़ के डिप्टी सीएम विजय शर्मा देर रात घायलों से मिलने रायपुर एम्स पहुंचे. उन्होंने कहा कि इस हादसे की गंभीरता से दंडाधिकारी जांच कराई जाएगी. वहीं घायलों ने डिप्टी सीएम को बताया कि खाई में गिरने वाली बस की एक भी लाइट नहीं जल रही थी. वहीं रास्ते के दोनों तरफ गड्ढा था. बता दें कि 20 घायलों का इलाज रायपुर और दुर्ग के अलग-अलग अस्पतालों में चल रहा है. वहीं दो लोगों की हालत गंभीर बनी हुई है।

दुर्ग में हुआ हादसा दुखद-पीएम मोदी
प्रधानमंत्री मोदी ने हादसे पर दुख जताते हुए ‘एक्स’ पर कहा, ”छत्तीसगढ़ के दुर्ग में हुआ बस हादसा अत्यंत दुखद है, इसमें जिन्होंने अपने प्रियजनों को खोया है, उनके प्रति मेरी संवेदनाएं. इसके साथ ही मैं घायलों के शीघ्र स्वस्थ होने की कामना करता हूं. राज्य सरकार की निगरानी में स्थानीय प्रशासन पीड़ितों की हरसंभव मदद में जुटा है.”

वहीं राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू ने भी इस घटना पर दुख जताया है. राष्ट्रपति मुर्मू ने ‘एक्स’ पर कहा, ”छत्तीसगढ़ के दुर्ग जिले में एक बस के दुर्घटनाग्रस्त होने से अनेक लोगों के हताहत होने का समाचार बहुत दुखद है. सभी शोक संतप्त परिवारों के प्रति मेरी गहन संवेदनाएं. मैं घायल हुए लोगों के शीघ्र स्वस्थ होने की कामना करती हूं.”

खादान में बस गिरने से 15 लोगों की मौत

मजदूरों से भरी बस खादान में गिरने से यह भीषण हादसा हुआ है. पुलिस अधिकारियों का कहना है कि यह घटना मंगलवार रात साढ़े आठ बजे की है. खपरी गांव के पास पहुंची बस अचानक नियंत्रण होकर 40 फुट गहरे मुरम खदान में गिर गई. पुलिस के मुताबिक, घटना की जानकारी मिलने के बाद पुलिस दल को घटनास्थल के लिए रवाना किया गया और बचाव कार्य शुरू कर दिया गया. उन्होंने बताया कि शवों और घायलों को अस्पताल भेजा गया. खदान से बस को निकालने की भी कोशिश जारी है।

पुलिस के मुताबिक, घटना की जानकारी मिलने के बाद पुलिस दल को घटनास्थल के लिए रवाना किया गया और बचाव कार्य शुरू कर दिया गया. घटनास्थल में अंधेरा होने के कारण शुरू में बचाव कार्य में परेशानी हुई. कुछ देर बाद राज्य आपदा मोचन बल और पुलिस ने स्थानीय लोगों की मदद से शवों और घायलों को बाहर निकाला.उन्होंने बताया कि शवों और घायलों को अस्पताल भेजा गया है तथा खदान से बस को निकालने की कोशिश की जा रही है.
घायलों का AIIMS में चल रहा इलाज
दुर्ग जिले की कलेक्टर रिचा प्रकाश चौधरी ने बताया कि इस घटना में 15 लोगों की मौत हुई है और 14 अन्य घायल हुए हैं. घायलों में से 12 को रायपुर अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान में भर्ती कराया गया है.चौधरी ने बताया कि मामले की दंडाधिकारी जांच कराई जाएगी और इसके लिए जिम्मेदार लोगों के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी।

घायलों का AIIMS में चल रहा इलाज
दुर्ग जिले की कलेक्टर रिचा प्रकाश चौधरी ने बताया कि इस घटना में 15 लोगों की मौत हुई है और 14 अन्य घायल हुए हैं. घायलों में से 12 को रायपुर अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान में भर्ती कराया गया है.चौधरी ने बताया कि मामले की दंडाधिकारी जांच कराई जाएगी और इसके लिए जिम्मेदार लोगों के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी.

उन्होंने बताया कि हादसे के बाद उद्योग प्रबंधन से बात की गई है. प्रबंधन की ओर से हादसे में पीड़ित लोगों को मुआवजा देने का आश्वासन दिया गया है. वहीं प्रशासन की ओर से मुआवजे की घोषणा की जाएगी. उद्योग से परिवार के एक सदस्य को रोजगार देने पर पर भी चर्चा की गई है.