नक्सलियों की कायराना हरकत: बस्तर में मतदान के पहले नक्सलियों ने की भाजपा नेता की हत्या,अब तक 9 नेताओं का किया मर्डर, गृह मंत्री विजय शर्मा ने दी चेतावनी

छत्तीसगढ़ में होने जा रहे लोकसभा चुनाव के प्रथम चरण के तीन दिन पहले नारायणपुर जिले के फरसगांव थाना क्षेत्र में नक्सलियों ने भाजपा नेता व उपसरपंच पंचम दास मानिकपुरी की धारदार हथियार से हत्या कर दी है। चुनावी वर्ष में नक्सली लगातार भाजपा नेताओं को निशाना बनाकर हत्या कर रहे हैं। अब तक एक दर्जन भाजपा नेताओं की हत्या नक्सली कर चुके हैं।

छत्तीसगढ़ में नक्सलियों के विरुद्ध अभियान को तेज किया गया,नक्सलियों से संवाद के लिए रास्ते खुले: गृह मंत्री विजय शर्मा,योजनाबद्ध तरीके से नक्सलियों के विरुद्ध लड़ रही सरकार: भाजपा नेता

छत्तीसगढ़ में होने जा रहे लोकसभा चुनाव के प्रथम चरण के तीन दिन पहले नारायणपुर जिले के फरसगांव थाना क्षेत्र में नक्सलियों ने भाजपा नेता व उपसरपंच पंचम दास मानिकपुरी की धारदार हथियार से हत्या कर दी है। चुनावी वर्ष में नक्सली लगातार भाजपा नेताओं को निशाना बनाकर हत्या कर रहे हैं। अब तक एक दर्जन भाजपा नेताओं की हत्या नक्सली कर चुके हैं।

गृह मंत्री ने क्या कुछ कहा?
गृह मंत्री विजय शर्मा ने इसे नक्सलियों की कायराना हरकत बताते हुए कहा है कि हाथ में बंदूक है तो किसी को भी मार देंगे। उन्होंने कहा कि प्रदेश में नक्सलियों के विरुद्ध अभियान को तेज किया गया है। नक्सलियों से संवाद के लिए रास्ते खुले हैं, पर उन्हें हथियार छोड़ना पड़ेगा।

भाजपा के प्रदेशाध्यक्ष किरण देव ने कहा कि बस्तर में लगातार भाजपा नेताओं की हत्या टारगेट किलिंग नहीं है तो और क्या है। सरकार योजनाबद्ध तरीके से नक्सलियों के विरुद्ध लड़ाई लड़ रही है, जल्द ही प्रदेश से नक्सलियों का सफाया कर दिया जाएगा।

अबतक कितने नक्सली हुए ढेर?
सनद रहे कि प्रदेश में सत्ता परिवर्तन के बाद अब तक 80 पीपुल्स लिब्रेशन गुरिल्ला आर्मी के लड़ाकों को सुरक्षा बल ने मुठभेड़ में मार गिराया है। पुलिस के अनुसार, मंगलवार की रात नक्सलियों की स्माल एक्शन टीम ने दंडवन के उपसरपंच व भाजपा नेता पंचम दास मानिकपुरी के घर का दरवाजा तोड़कर अंदर घुसे और धारदार हथियार से हत्या कर दी। घटनास्थल पर नक्सलियों की पूर्वी डिविजन ने पर्चा फेंक कर हत्या की जिम्मेदारी ली है।

बकौल पुलिस, पर्चे में भाजपा नेता मानिकपुरी पर भ्रष्टाचार व पुलिस के लिए गोपनीय सैनिक का काम करने का आरोप लगाते हुए पीएलजीए की ओर से मौत की सजा देने का उल्लेख किया है। पर्चे में भाजपा व आरएसएस को मार भगाने की बात लिखी गई है।

यहां बता दें कि एक माह पहले बीजापुर में भाजपा नेता तिरुपति कटला व कैलाश नाग की हत्या नक्सलियों ने की थी। फरवरी 2023 में बीजापुर में नीलकंठ कक्केम की पहली हत्या हुई थी। इसके बाद भाजपा जिला उपाध्यक्ष सागर साहू, रामधर अलामी, रतन दुबे, अर्जुन कका सहित अन्य नेताओं की हत्या नक्सली कर चुके हैं।