रायपुर में रोने लगीं कांग्रेस प्रवक्ता राधिका खेड़ा, कहां “पार्टी में मेरी इतनी बेइज्जती कभी नहीं हुई…पार्टी छोड़ के जा रही हूं”…,सियासी गलियारों में मचा हड़कंप …

कांग्रेस की नेशनल मीडिया कार्डिनेटर राधिका खेड़ा का रोते हुए एक VIDEO सामने आया है। VIDEO को लेकर जहां कांग्रेस अंदर भूचाल है, तो वहीं भाजपा इसे लेकर कांग्रेस पर जमकर निशाना साध रही है। कांग्रेस भवन में बैठकर राधिका का फोन पर रोते हुए एक VIDEO वायरल हो रहा है। जिसमें वो ये कहती सुनायी पड़ रही है कि, ‘मेरी 40 साल की उम्र में मेरे साथ ऐसा कभी नहीं हुआ। मेरी इतनी बेइज्जती कभी नहीं हुई। मैं जब उससे बात करती हूं, वो मुझ पर चिल्लाता है, मैंने ये बातें दिल्ली भी बतायी है… मैं पार्टी से इस्तीफा दे रही हूं ।‘

राजीव भवन में भारी बहस, तू-तू, मैं-मैं, हंगामा, रोने की चर्चा है. यह चर्चा कांग्रेस की राष्ट्रीय प्रवक्ता राधिका खेड़ा के उस ट्वीट के बाद तेज हो गई, जिसमें उन्होंने माता कौशल्या के मायके में बेटियों के सुरक्षित नहीं होने और पुरुष मानसिकता से ग्रसित लोगों के हावी होने को लेकर की. साथ ही यह भी कहा है कि वह कुछ खुलासा करेंगी।

पूरा मामला जुड़ा है संचार विभाग में घटित घटना से. संचार विभाग में मंगलवार शाम को राधिका खेड़ा मीडियावालों को बाइट के लिए आमंत्रित किया था. बाइट देने के बाद बाद वह संचार विभाग मौजूद थीं. मीडिया के लोग बाइट लेने के बाद जा चुके थे. कुछ देर में संचार अध्यक्ष प्रमुख सुशील आनंद शुक्ला के कमरे के बाहर बहस होने की आवाजें आने लगी।

राजीव भवन में भारी बहस, तू-तू, मैं-मैं, हंगामा, रोने की चर्चा है. यह चर्चा कांग्रेस की राष्ट्रीय प्रवक्ता राधिका खेड़ा के उस ट्वीट के बाद तेज हो गई, जिसमें उन्होंने माता कौशल्या के मायके में बेटियों के सुरक्षित नहीं होने और पुरुष मानसिकता से ग्रसित लोगों के हावी होने को लेकर की. साथ ही यह भी कहा है कि वह कुछ खुलासा करेंगी।

पूरा मामला जुड़ा है संचार विभाग में घटित घटना से. संचार विभाग में मंगलवार शाम को राधिका खेड़ा मीडियावालों को बाइट के लिए आमंत्रित किया था. बाइट देने के बाद बाद वह संचार विभाग मौजूद थीं. मीडिया के लोग बाइट लेने के बाद जा चुके थे. कुछ देर में संचार अध्यक्ष प्रमुख सुशील आनंद शुक्ला के कमरे के बाहर बहस होने की आवाजें आने लगी।

VIDEO वायरल हुआ तो भाजपा ने भी महिलाओं की सुरक्षा के मुद्दे पर कांग्रेस को घेरना शुरू कर दिया। भाजपा प्रवक्ता गौरीशंकर श्रीवास ने महिला नेत्री से छेड़छाड़ तक की बात भी सोशल मीडिया में पोस्ट कर दी। वहीं भाजपा प्रवक्ता केदार गुप्ता ने राधिका खेड़ा का मुद्दा नारी अस्मिता से जोड़ते हुए कहा कि कांग्रेस अपनी ही महिला नेत्री का सम्मान नहीं कर पा रही है। उन्होंने राधिका खेड़ा को कांग्रेसियों से बचकर रहने की नसीहत दी है।

दरअसल, राधिका खेड़ा और छत्तीसगढ़ कांग्रेस के नेताओं के बीच विवाद की खबर है। मामला मंगलवार का है, जब मीडिया में बयान देने को लेकर राधिका खेड़ा के साथ नेता का विवाद हो गया। कहा जा रहा है कि राजीव भवन में राधिका खेड़ा स्थानीय नेताओं और प्रवक्ताओं के साथ मौजूद थीं, विवाद तभी हुआ। विवाद बढ़ा तो राधिका खेड़ा रोने लगीं। इसके बाद उन्होंने इसकी जानकारी पीसीसी चीफ दीपक बैज और पार्टी के बड़े नेताओं को दी।

इधर इस पूरे मामले पर दीपक बैज ने कहा कांग्रेस पार्टी में सबका मान सम्मान है। यह हमारी पार्टी का अंदरूनी मामला है, इसे सुलझा लेंगे। मामले में बीजेपी नेताओं की प्रतिक्रिया पर बैज ने कहा कि बीजेपी के पास चुनाव के समय कोई मुद्दा नहीं है।इसलिए हमारे नेताओं की बातों को तूल देते हैं।बीजेपी के लोग पहले अपना घर संभाल लें।