बीजेपी को नहीं मिलेगी 370 सीटें, पार्टी के ही दिग्गज नेता ने कर दी भविष्यवाणी, चौथे फेज के बाद ही बदला समीकरण,पढ़िए पूरी रिपोर्ट

{"remix_data":[],"remix_entry_point":"challenges","source_tags":[],"origin":"unknown","total_draw_time":0,"total_draw_actions":0,"layers_used":0,"brushes_used":0,"photos_added":0,"total_editor_actions":{},"tools_used":{"clone":3},"is_sticker":false,"edited_since_last_sticker_save":true,"containsFTESticker":false}

लोकसभा चुनाव में बीजेपी को कितनी सीटें मिलेंगी, इसको लेकर कई मंचों पर अलग-अलग दावे किए जा रहे हैं। विपक्षी दलों का कहना है कि चार चरणों के मतदान में बीजेपी पिछड़ गई है और यह सत्ता से बाहर हो जाएगी। अब बीजेपी के राष्ट्रीय महासचिव विनोद तावड़े ने माना है कि बीजेपी 370 सीट के आंकड़े से दूर ही रहेगी।

बीजेपी के लिए पार्टी के महासचिव विनोद तावड़े ने किया नए आंकड़े का खुलासा,विनोद तावड़े लोकसभा चुनाव के दौरान बीजेपी के वॉर रूम में भी सक्रिय रहे हैं,उन्होंने बताया कि लोकसभा में बीजेपी को किन राज्यों में मिल रही हैं नई 65 सीटें

लोकसभा चुनाव के पांचवें चरण से पहले बीजेपी के राष्ट्रीय महासचिव विनोद तावड़े ने बड़ी भविष्यवाणी की है। उन्होंने कहा है कि बीजेपी अपने दम पर इस चुनाव में 340 से 355 सीटों पर जीत हासिल करेगी। उन्होंने अपने उनकी यह भविष्यवाणी पीएम नरेंद्र मोदी के उस दावे से अलग है, जिसमें बीजेपी की ओर से 370 जीतने का दावा किया गया था। तावड़े के अनुमानित आंकड़े में बीजेपी को निर्धारित लक्ष्य से 15-30 सीटें कम मिल रही हैं। हालांकि बीजेपी के दिग्गज नेता अभी एनडीए के 400 पार वाले नारे पर कायम हैं। विनोद तावड़े का कहना है कि एनडीए के सहयोगी दलों को करीब 70 सीटें मिलेंगी। अब चार जून को ही पता चलेगा कि विनोद तावड़े के दावे में कितना दम है? पिछले लोकसभा चुनाव में बीजेपी को पूरे देश में 303 सीटें मिली थीं।

2021 से ही केंद्रीय राजनीति में हैं विनोद तावड़े
विनोद तावड़े खुद 2024 के लोकसभा चुनाव में उम्मीदवार नहीं हैं, मगर वह दिल्ली में पार्टी के लिए रणनीति बना रहे हैं। चुनावी माहौल में दूसरे दलों से आए नेताओं को पार्टी में शामिल कराने की जिम्मेदारी भी उन्होंने संभाल रखी थी। दिल्ली स्थित बीजेपी कार्यालय में आकर पार्टी में शामिल होने वाले नेताओं के हर तस्वीर में तावड़े नजर आएंगे। तावड़े बिहार बीजेपी के प्रभारी भी हैं। माना जाता है कि नीतीश कुमार को दोबारा एनडीए में लाने में उन्होंने महत्वपूर्ण भूमिका निभाई। तावड़े 2020 में महाराष्ट्र की राजनीति से केंद्र में एंट्री ली और बीजेपी के राष्ट्रीय सचिव बने। 2021 में उन्हें भारतीय जनता पार्टी का राष्ट्रीय महासचिव बनाया गया। लोकसभा चुनाव में वह बीजेपी के वॉर रूम का हिस्सा भी हैं। अब उनकी चुनावी भविष्यवाणी पर चर्चा हो रही है।

जानिए किन राज्यों में मिल रही हैं कितनी सीटें, बिहार में नुकसान
इंडियन एक्सप्रेस की रिपोर्ट की मुताबिक, एक इंटरव्यू में विनोद तावड़े ने लोकसभा चुनाव परिणामों पर खुलकर चर्चा की और बीजेपी को मिलने वाली संभावित सीटों पर अपनी राय रखी। जब उनसे पूछा गया कि एनडीए 400 प्लस सीटों के आंकड़े को कैसे हासिल करेगी? इसके जवाब में तावड़े ने दावा किया कि बीजेपी अपने दम पर पूरे देश में 340 से 355 सीटें हासिल करेगी। सहयोगी दलों को 70 सीटें मिलने का अनुमान है। बीजेपी की रणनीति का खुलासा करते हुए उन्होंने कहा कि इस बार पार्टी ने 160 ऐसी लोकसभा सीटों पर फोकस किया है, जिन पर पहले कभी जीत नहीं मिली या यूं कहें कि जीतना मुश्किल है। उम्मीद है कि इस बार बीजेपी 60-65 नई सीटों पर जीत हासिल करेगी। उन्होंने बताया कि बीजेपी को इस बार तेलंगाना, आंध्र प्रदेश, ओडिशा और उत्तर प्रदेश में 2019 के मुकाबले ज्यादा सीटें मिलेंगी। जबकि गुजरात, राजस्थान और मध्यप्रदेश में वह 2019 का रिजल्ट दोहराएगी। विनोद तावड़े ने माना कि इस चुनाव में बीजेपी को बिहार में एक सीट कम मिल सकती है।

छत्तीसगढ़ की आवाज वेबसाइट इसकी पुष्टि नहीं करता है।