दुर्ग के साथ धमतरी जिले के कुरूद में भी जन समर्पण सेवा सँस्था ने किया सेवा कार्य

दुर्ग के साथ धमतरी जिले के कुरूद में भी जन समर्पण सेवा सँस्था ने किया सेवा कार्य

छत्तीसगढ़ की पावन भूमि कुरूद में दिनाँक 16 मई से 22 मई तक विश्वविख्यात, सुप्रसिद्ध कथावाचक परमपूज्य पंडित श्री प्रदीप मिश्रा जी द्वारा श्री शिव महापुराण कथा का सुंदर, मधुर वाचन किया गया, जोकि छत्तीसगढ़ का अद्भुत, अलौकिक एवं ऐतहासिक आयोजन हुआ, इस पूरे आयोजन में जन समर्पण सेवा सँस्था ने सहयोगी सँस्था बनकर किया सेवा कार्य
ऐसा अद्भुत एवं ऐतहासिक आयोजन जन समर्पण सेवा सँस्था के अध्यक्ष योगेन्द्र शर्मा बंटी के मामा स्व. श्री हीरालाल श्रीधर जी की पुण्य स्मृति में श्रीमती कमला देवी श्रीधर, श्री रतन शर्मा, श्री प्रकाश शर्मा (पहाड़ी) एवं श्रीधर परिवार, कुरूद द्वारा कराया गया था, आयोजन में दुर्ग की जन समर्पण सेवा सँस्था को पूरे आयोजन की सहयोगी सँस्था बनाया गया था, सँस्था के सदस्य कार्यक्रम की तैयारी को लेकर पूरे 15 दिन कुरूद में ही रहकर कार्यक्रम को सफल बनाने हेतु कार्य करते रहे, सँस्था के अध्यक्ष योगेन्द्र शर्मा बंटी ने पूरे आयोजन को लेकर अपने सदस्यों की बैठक लेकर सभी को कार्यक्रम के पूर्व कुरूद चलने को कहा था,
सँस्था के कुछ सदस्य दुर्ग में प्रतिदिन चल रही निःशुल्क भोजन सेवा में सेवा देने दुर्ग रुके तो कुछ सदस्य 15 दिन के लिए कुरूद श्री शिवमहापुराण कथा में सेवा देने गए, सँस्था के सदस्य पंडाल व्यवस्था, साउंड व्यवस्था, भोजन, एवं विश्राम स्थल में सेवा दिए
कुरूद के विधायक अजय चंद्राकर के मार्गदर्शन में एवं कुरूद क्षेत्र के महिला, पुरुष, युवा एवं क्षेत्र की सामाजिक धार्मिक, राजनीतिक सँस्था के सदस्यों के साथ मिलकर उनसे कंधे से कंधा मिलाकर श्री शिवमहापुराण कथा को सफल बनाने हेतु कार्य करते रहे,
कुरूद में कथा के दौरान 7 दिनों में लाखों की संख्या में श्रद्धालु पहुंचकर कथा का आनंद लिए, कथा में श्रद्धालुओं का सैलाब उमड़ा, बस, कार, अन्य वाहन में आवाजाही के भी सुगम साधन होने से प्रतिदिन धर्मप्रेमियों की संख्या बढ़ते क्रम रही, कुरूद में आयोजित पंडित प्रदीप मिश्रा जी द्वारा की गयी शिव महाशिवपुराण कथा 7 दिन की गयी। जिसमें प्रतिदिन लाखों लोग कथा सुनने पहुँचे। इतनी भीड़ के रोजाना पहुंचने के बाद भी क्षेत्र में एक बार भी ट्रैफिक व्यवस्था नहीं बिगड़ी। पुलिस प्रशासन, एवं कुरूद के कार्यकर्ताओं ने कई घंटे ड्यूटी दिए।
पूरे विश्व मे सनातन धर्म की अलख जगाने वाले, विश्वविख्यात, सीहोर वाले पंडित श्री प्रदीप मिश्रा जी द्वारा की गयी शिव महापुराण कथा का आयोजन दिनाँक 16 से 22 मई अगस्त 2024, दोपहर 2 बजे से 5 बजे तक प्रतिदिन वृद्धि विहार, भरदा चौक, राजिम रोड, कुरूद (छ.ग) में किया गया..
कथा स्थल पर आयोजक श्री प्रकाश शर्मा (पहाड़ी) एवं श्रीधर परिवार द्वारा अद्भुत विशाल डोम (पंडाल) श्रद्धालुओं के बैठने के लिए बनवाया गया,* इसके बाद भी श्रद्धालु ज्यादा पहुंचने से डोम के बाहर तक सैकड़ों लोगों को बैठना पड़ा, बहार बैठे लोगों के लिए भी बैठक हेतु उचित व्यवस्था की गयी है, जगह जगह स्क्रीन लगाई गयी, जिससे पंडाल के बाहर एवं दूर दूर तक के बैठे लोग कथा का आंनद ले रहे है, कथा स्थल तक पहुंचने के लिए अलग अलग गेट बनाये गए थे, जिससे कार्यक्रम में कोई असुविधा नही हुई, जन समर्पण सेवा सँस्था के अध्यक्ष योगेन्द्र शर्मा बंटी ने पूरे आयोजन का कुरूद के विधायक अजय चंद्राकर के मार्गदर्शन में सफल मैनेजमेंट किया और सभी कार्यों में सँस्था के सदस्य क्षेत्र के नागरिकों के साथ मिलकर अपना सहयोग दिए


इस आयोजन में शिव भक्तों की सेवा एवं किसी प्रकार की घटना न हो इसके लिए कुरूद के सभी समाज के सैकड़ों लोग वालियंटर्स बने। बड़े-बुजुर्ग, महिला, नौजवान सभी ट्रैफिक व्यवस्था के साथ कथा पांडाल की व्यवस्था, बहार से आये धर्मप्रेमियों की रुकने, ठहरने, भोजन की व्यवस्था हेतु कार्य किये, सभी व्यवस्था कुरूद के सभी समाजिक बन्धों संभाल रहे थे। वहीं पुलिस-ट्रैफिक के जवान भी चौराहों व आयोजन स्थल पर तैनात थे।
योगेन्द्र शर्मा ने कहा कि धन्य है इस शिव महापुराण कथा के आयोजक एवम धन्य है कुरूद की धरती जिसमें ऐसा ऐतहासिक आयोजन सफलता पूर्वक हुआ, और सच्चे धर्मप्रेमी है वो लोग जो निस्वर्थ भाव से इस आयोजन में सेवा दिए..
इस पूरे आयोजन में विधायक माननीय अजय चंद्राकर का ऐसा सहयोग एवं साथ देखने को मिला, जैसे यह उनके परिवार का आयोजन था, उन्होंने इस आयोजन को अपने परिवार के आयोजन जैसा समझकर कर कार्यक्रम को सफल बनाने में सबसे बड़ी भूमिका अदा की, कार्यक्रम के सरंक्षक एवं मार्गदर्शक के रूप में अजय चंद्राकर ने कार्यक्रम को सफलता दिलाई, माननीय विधायक महोदय के बिना सहयोग एवं मार्गदर्शन के इस कार्यक्रम को सफल बनाना तो दूर कार्यक्रम की सोच रखना भी एक सपना था, श्रीधर परिवार का मुखिया बनकर पूरे कार्यक्रम को ऐतिहासिक बना
इसके साथ साथ पूरे कुरूद क्षेत्र के हर नागरिक महिला, पुरुष, युवाओं ने भी इस आयोजन को अपना आयोजन समझा और विगत 1 माह से अपने सारे काम छोड़कर आयोजन की तैयारी में जुटे रहे, कुरूद के हर व्यक्ति ने किसी न किसी रूप में अपना सहयोग एवं साथ दिया,
इस धार्मिक आयोजन को सफल एवं ऐतिहासिक बनाने में प्रत्यक्ष एवं अप्रत्यक्ष रूप से सहयोग एवं साथ देने वाले सभी धर्मप्रेमियों, सभी सेवा भावी सँस्था, शासन प्रशासन के समस्त अधिकारियों कर्मचारियों, वरिष्ठ पत्रकारों, न्यूज रिपोर्टर, नगर निगम, दुर्ग, पुलिस प्रशासन, सभी समाज, एवं पंडाल, भंडारा, पानी, बिजली, सफाई, मंच, पार्किंग, प्रचार प्रसार, जैसी अन्य व्यवस्था में सहयोग एवं साथ देने वाले कुरूद क्षेत्र के समस्त नागरिकों का जन समर्पण सेवा सँस्था के सदस्यों ने हृदय से आभार संग धन्यवाद..
सँस्था के सदस्यों को अलग अलग दिन कथा वाचक पंडित प्रदीप मिश्रा से आर्शीवाद लेने एवं आरती शामिल होने का अवसर मिला..
कुरूद में श्री शिवमहापुराण कथा में सेवा देने वालो में सँस्था के अध्यक्ष योगेन्द्र शर्मा बंटी के साथ साथ ईशान शर्मा मोनू सुरेश गुप्ता दिनेश पुरोहित मनोज गुप्ता लाल सुजल शर्मा ललित शर्मा राहुल शर्मा ऋषि गुप्ता मोहित पुरोहित नमन खंडेलवाल एवं अन्य सदस्य सेवा दिए..