दुर्ग जिला भीषण गर्मी की चपेट में: भिलाई में लू और गर्म हवाओं ने ली महिला की जान

महिला मनरेगा के तहत अहिरी नर्सरी में काम करने गयी थी. काम करते समय उसे चक्कर आ गया और वह बेहोश हो गई। इसके बाद उन्हें अस्पताल ले जाया गया, जहां डॉक्टर ने उन्हें मृत घोषित कर दिया।

महिला की पहचान भद्रा बाई (60) निवासी अहिरी नंदिनी थाना क्षेत्र के रूप में हुई है। जानकारी के मुताबिक महिला मनरेगा श्रमिक के रूप में पंजीकृत थी। वह अहिरी गांव में उद्यानिकी विभाग की नर्सरी में काम करती थी। मंगलवार दोपहर महिला नर्सरी तैयार कर रही थी। इसी दौरान उन्हें अचानक चक्कर आ गया।

उनकी मौके पर ही मौत हो गई। महिला के बेहोश होते ही वहां हड़कंप मच गया। महिला को आसपास काम कर रहे मजदूरों ने उठाया। इसके बाद उन्हें उहिरी अस्पताल ले जाया गया। डॉक्टरों ने महिला को मृत घोषित कर दिया। इसके बाद नंदिनी पुलिस ने शव को PM के लिए सुपेला स्थित लाल बहादुर शास्त्री अस्पताल भेज दिया। महिला के पति लखन ठाकुर ने बताया कि उसके तीन बेटे और एक बेटी है. सभी शादीशुदा हैं| पति-पत्नी आजीविका कमाने के लिए कड़ी मेहनत करते हैं। उसकी पत्नी हमेशा की तरह पौधा तैयार करने के लिए नर्सरी में गई थी। गर्मी इतनी तेज थी कि उसकी मौत हो गई. पति ने कहा कि उसकी पत्नी की मौत से बुढ़ापे में उसका सहारा छिन गया। सरकार को उनके जैसे बुजुर्गों के लिए कुछ करना चाहिए ताकि उन्हें इतनी मेहनत न करनी पड़े।